#💔दर्द-ए-दिल
💔 दर्द-ए-दिल - चक्रव्यूह रचने वाले अपने ही लोग होते हैं , कल भी यही सत्य था , आज भी यही सत्य है । rcom - ShareChat
180 ने देखा
5 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post