🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 🌞 ⛅ *दिनांक 13 अक्टूबर 2019* ⛅ *दिन - रविवार* ⛅ *विक्रम संवत - 2076 (गुजरात. 2075)* ⛅ *शक संवत -1941* ⛅ *अयन - दक्षिणायन* ⛅ *ऋतु - शरद* ⛅ *मास - अश्विन* ⛅ *पक्ष - शुक्ल* ⛅ *तिथि - पूर्णिमा 14 अक्टूबर रात्रि 02:38 तक तत्पश्चात प्रतिपदा* ⛅ *नक्षत्र - उत्तर भाद्रपद सुबह 07:54 तक तत्पश्चात रेवती* ⛅ *योग - व्याघात 14 अक्टूबर प्रातः 04:44 तक तत्पश्चात हर्षण* ⛅ *राहुकाल - शाम 04:33 से शाम 06:00 तक* ⛅ *सूर्योदय - 06:34* ⛅ *सूर्यास्त - 18:15* ⛅ *दिशाशूल - पश्चिम दिशा में* ⛅ *व्रत पर्व विवरण - व्रत पूर्णिमा, माणेकठारी-कोजागरी-शरद पूर्णिमा, कार्तिक स्नानारम्भ, वाल्मीकि जयंती* 💥 *विशेष - पूर्णिमा के दिन स्त्री-सहवास तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)* 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 🌷 *कार्तिक मास में स्नान की महिमा* 🌷 🙏🏻 *कार्तिक मास में सूर्योदय से पहले स्नान करने की बड़ी भारी महिमा है और ये स्नान तीर्थ स्नान के समान होता है l* 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 🌷 *शरद पूर्णिमा* 🌷 🌙 *शरद पूर्णिमा रात्रि में चन्द्रमा की किरणों में रखी हुई दूध – चावल की खीर का सेवन पित्तशामक व स्वास्थ्यवर्धक है | इस रात को सुई में धागा पिरोने से नेत्रज्योति बढ़ती है |* 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 🌷 *कार्तिक मास में जप* 🌷 🙏🏻 *कार्तिक मास में अपने गुरुदेव का सुमिरन करते हुए जो "ॐ नमो नारायणाय" का जप करता है, उसे बहुत पुण्य होता है |* 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 🌷 *कार्तिक मास* 🌷 🙏🏻 *स्कंद पुराण में लिखा है : ‘कार्तिक मास के समान कोई और मास नहीं हैं, सत्ययुग के समान कोई युग नहीं है, वेदों के समान कोई शास्त्र नहीं है और गंगाजी के समान दूसरा कोई तीर्थ नहीं है |’ – ( वैष्णव खण्ड, का.मा. : १.३६-३७)* 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 🙏🍀🌷🌻🌺🌸🌹🍁🙏 #🔯आज का राशिफल / पंचांग ☀️
🔯आज का राशिफल / पंचांग ☀️ - शुभ रविवार आपको और आपके पूरे परिवार को शरद पूर्णिमा एवं वाल्मिकी जयन्ती सप्रभात COM 13 / 10 / 2019 महर्षि वाल्मीकिंजी एवं माता लक्ष्मी का आशीर्वाद आपके परिवार पर सदैव बनी रहे । की हार्दिक शुभकामनाएं - ShareChat
44.5k ने देखा
1 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post