#h #🙏 ध्यान लगाओ🙌 11 श्लोक 21 व 46 में अर्जुन कह रहा है कि भगवन् ! आप तो ऋषियों, देवताओं तथा सिद्धों को भी खा रहे हो, जो आप का ही गुणगान कर रहे हैं। हे सहस्त्राबाहु अर्थात् हजार भुजा वाले भगवान ! आप अपने उसी चतुर्भुज रूप में आईये। मैं आपके विकराल रूप को देखकर धीरज नहीं कर पा रहा हूँ। : #Who_Is_Kaal #supreme #krishna #kanha #haribol
#h
h - SA NEWS गीता ज्ञान दाता स्वयं अपने आप को काल बताता है मैं लोकों का नाश करने वाला बढ़ा हुआ काल हूँ । इस समय इन लोकों को नष्ट करने _ _ _ के लिए प्रकट हुआ हूँ इसलिए जो । प्रतिपक्षियों की सेना में स्थित योद्धा लोग हैं , वे सब तेरे बिना भी नहीं रहेंगे अर्थात तेरे युद्ध न करने से भी इन सबका नाश हो जायेगा । अध्याय 11 , श्लोक 32 Satlok Ashram News Channel @ SatlokChannel Tube Satlok Ashram www . SupremeGod . org - ShareChat
103 ने देखा
2 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post