👬दोस्ती-यारी - कई बार बिना गलती के भी । गलती मान लेते हैं हम क्योंकि डर लगता है । कोई अपना हमसे रूठ ना जाए Sujeet Sondhiya - ShareChat
295 ने देखा
1 साल पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post