maa
raj - | माँ त होती तो . . . नींद बहुत आती है पड़ते पड़ते . . माँ होती तो कह देता , एक प्याली चाय बना दे ! थक गया जली रोटी खा खा कर माँ होती तो कह देता पराठे बना दे ! ! भीग गयी आंसुओं से आँखे मेरी . . माँ होती तो कहें देता ' आँचल दे दे ! | रोज वही कोशिश खुश रहने की , माँ होती तो मुस्कुरा लेता ! ! देर रात हो जाती है घर पहुचते - पहुचते | माँ होती तो वक़्त से घर लौट जाता ! ! सुना है कई दिनों से वो भी नही मुस्कुराई , ये मजबूरिया न होती तो घर चला जाता ! ! बहुत दूर निकल आया हू घर से अपने , तो तेंरे सपनो की पूर्वीह न होती , . . . तो बस चला आता ! ! - ShareChat
287 ने देखा
1 साल पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post