#✍️अल्फ़ाज़✍️
✍️अल्फ़ाज़✍️ - हसरत - ए - जिंन्दगी उलफत के मारों से न पूछो . . . . आलम इन्तजार का मजा पतझड़ सी है ज़िन्दगी . . . . . ख्याल है बहार का . . 109 - Deep - ShareChat
154 ने देखा
1 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post