#🎼 ग़ज़ल #😍 awww... 🥰😘❤️ #✒ शायरी
🎼 ग़ज़ल - सजदे में भी ना गयीं आवारगियी । | मेरी ००००० मैंने पढ़ी वही आयन जिसमें जिक्र - ए - यार हुआ ००००० sp - ShareChat
14.6k ने देखा
1 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post