राम मंदिर के लिए भक्त दान करेंगे 51 हजार ईंटें, खास मिट्टी से की जा रही हैं तैयार जिस जगह पर राम नाम की ईंटें बन रही हैं, वहां जूते-चप्पल पहनकर जाना मना है. भट्टे के मालिक संदीप वर्मा के मुताबिक उनके मन में इच्छा शक्ति आई कि वह भगवान राम के मंदिर के गर्भ ग्रह की नींव भरने के लिए 51 हजार ईंटें रामलला को दान करेंगे. अयोध्या. अयोध्या भूमि विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद अब भक्त भगवान राम को उनके भव्य मंदिर में देखना चाहते हैं. ऐसा ही एक भक्त अयोध्या में भी मिला जिसने राम मंदिर के फैसले के साथ ही 51 हजार भगवान राम नाम की ईंटें बनवाना शुरू कर दिया है. लगभग 4 हजार से ज्यादा ईंटें बनकर तैयार हैं. राम मंदिर निर्माण की तिथि घोषित होते ही वह 51 हजार अवल दर्जे की ईंटें भगवान राम लला के गर्भ ग्रह की नींव भरने के लिए राम जन्म भूमि में दान करेंगे. मटियारी मिट्टी का प्रयोग जिस जगह पर राम नाम की ईंटें बन रही हैं उस जगह पर जूते-चप्पल पहनकर जाना वर्जित है. भट्टे के मालिक संदीप वर्मा के मुताबिक उनके मन में इच्छा शक्ति आई कि वह भगवान राम के मंदिर के गर्भ ग्रह की नींव भरने के लिए 51 हजार ईंटें रामलला को दान करेंगे. वर्मा ने बताया कि भक्त और भगवान का ताल्लुक सदियों से चला आ रहा है. यह विशेष तरह की मटियारी मिट्टी से बनी ईंटें होंगी. ईंट में शुद्धता का भी पूरा ध्यान रखा गया है. ईंटें पाथने के लिए 16 मजदूर लगे हैं जो रात दिन मेहनत करके 51 हजार ईंटों को तैयार करेंगे.
📰उत्तर प्रदेश की ख़बरें - ShareChat
46.5k ने देखा
3 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post