📖 कविता - _ Beautiful poem by _ हरिवंशराय बच्चन S . Raj # मंजिल मिले ना मिले । ये तो मुकदर की बात है ! _ हम कोशिश भी ना करे ये तो गलत बात है . . . . । जिन्दगी जख्मो से भरी है , वक्त को मरहम बनाना सीख लो , _ हारना तो है एक दिन मौत से , फिलहाल जिन्दगी जीना सीख लो ! ! - ShareChat
#📖 कविता
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post