#🔴माथे की बिंदिया
🔴माथे की बिंदिया - शादी में 7 फेरोके साथ लिएजाते हैं खास वचन जानें हर 1वचन का मतलब छठा वचन न मेपमानम सविधे सखीनां द्यूतं न वा दुयसनं भंजश्चेत , वामाम्गमायामि तदा त्वदीयं ब्रवीति कन्या वचनं च षष्ठम ! ! અર્થ | यदि मैं कभी सहेलियों के साथ रहूं तो आप सबसे सामने कभी मेरा अपमान नहीं करेंगे । जुआ या किसी भी तरह की बुराइयां अपनेआप से दूर रखेंगे तो ही मैं आपके वामांग में आना स्वीकार करती हूं । - ShareChat
182 ने देखा
3 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post