🙂 राजपूत 🙂 ठाकुर 🙂 साहूकार तेली तीनों साथ में बैठकर दारु पी रहे थे🍺🍺🍺 🙂 राजपूत ने अपना ग्लास पिया और उसे हवा में.उछाल दिया और अपनी बंदूक से फायरिंग की और ग्लास के टुकड़े टुकड़े कर दिए और बोला हम जिस ग्लास में एक बार पी लेते है उस ग्लास में दुबारा नहीं पीते 🙂फिर ठाकुर ने अपना ग्लास पिया और अपनी कुर्सी तोड़ दी और बोला जिस कुर्सी पर हम एक बार पी लेते हैं उस कुर्सी पर हम दुबारा बैठकर नहीं नहीं पीते 🤔🤔😀 साहूकार की तो बात ही अलग है उसने अपना गिलास पिया और हवा में उछाल दीया और उन दोनों
424 ने देखा
6 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post