लता मंगेशकर ९० वर्ष की हो गयी हैं, उन्होने अपने जीवन का अंतिम दर्द भरा गीत रिकार्ड किया, अब इसके बाद वे कभी रिकार्डिंग नही करेंगी । गीत उनकी मातृभाषा मराठी में है, गीत का अर्थ है "अब मेरे विश्रांती, चिरनिद्रा का समय है......." उनकी आवाज में आज भी वही दर्द वही कशीश नजर आती है....
05:19
784 जणांनी पाहिले
10 महिन्यांपूर्वी
इतर अॅप्स वर शेअर करा
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करा
काढून टाका
Embed
मला ही पोस्ट रिपोर्ट करावी वाटते कारण ही पोस्ट...
Embed Post