kabhi khushi kabhi gum
my life line - ठलुआ cl जीवन में जब भी हम खराब दौर से गुजरते हैं . . . तब मन में यह विचार जरुर आता है कि , परमात्मा मेरी परेशानी देखता क्यों नहीं है । मेरे दुःख कम । क्यों नहीं करता । पर याद रखना . . . जब परीक्षा चल रही होती है । तब शिक्षक मौन रहते हैं । - ShareChat
1.9k जणांनी पाहिले
1 वर्षांपूर्वी
इतर अॅप्स वर शेअर करा
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करा
काढून टाका
Embed
मला ही पोस्ट रिपोर्ट करावी वाटते कारण ही पोस्ट...
Embed Post