#🤨 शेयरचैट अकलमंद नं.1
🤨 शेयरचैट अकलमंद नं.1 - राज्यों की राजधानी न है कविता न कहानी खेलोगे तुम रणजी याद करो राजधानी गोवा की पणजी न समझनीन समझानी करोन अब शोर याद करो मुह ज़बानी कर्नाटक की बैंगलोर खुल गयी पोल मिजोरम की आइजोल खाओ तुम लोंग मेघालय की शिलांग जल्दी से तुम आऊ प्रयागराज था इलाहाबाद पेड़ से गिरा पत्ता उत्तरप्रदेश की लखनऊ आंध्रप्रदेश की हैदराबाद बंगाल की कलकत्ता बताऊ आपन हाल अप्रैल बाद देखो आयीमई खुब लिखो इमला मध्यप्रदेश की भोपाल तमिलनाडु की चेन्नई हिमाचल की शिमला बंद करो अब रटना सारे हो गए करम बिहार की पटना केरल की तिरुवनंतपुरम सुन्दर है तुम्हारा घर घोड़े से गिरा देखो वर अरुणांचल की इटानगर उड़ीसा की भुवनेश्वर नही रहा अब फैज़ाबाद तेलंगाना की हैदराबाद काहे गए तुम अड़ हरियाणा की चंडीगढ़ केला गया है सड़ काहे हो इतने अतुर पंजाब की चंडीगढ़ असम की दिसपुर नींद हो गयी है फुर खत्म करो रोकटोक राजस्थान की जयपुर सिक्किम की गंगटोक रात में निकले मून उत्तराखंड की देहरादून सुर में लगाओ सुर छत्तीसगढ़ की रायपुर अभी न जाओ घर ड्रेस मिला है सिला गुजरात की गांधीनगर त्रिपूरा की अगरतला अप्रैल के बाद मई देशों के बीच की सीमा महाराष्ट्र की मुम्बई नागालैंड की कोहिमा , आया नया साल मणिपुर की इम्फाल आगया देखो झांसी झारखंड की रांची - ShareChat
55.7k ने देखा
1 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post