#🤲 इबादत #💔 दर्द-ए-दिल #💏 इश्क़-मोहब्बत
🤲 इबादत - आका लेलो सलाम अब हमारा , आका लेलो सलाम अब हमारा , सबा तू मदीने जाके , सबा तू मदीने जाके , कहना खुदारा चाँद के टुकड़े किये , पेड़ों ने सजदे किये , सूरज पलट आ गया , ये मोजज़े आपके , उम्मती क्या खुद खुदा है , उम्मती क्या खुद खुदा है , शयदा तुम्हारा ग़म से हैं टूटे हुए , जुल्मों में डूबे हुए , मुद्दत हुई या नबी , किस्मत को रूठे हुए , रोज़े महेशर उम्मती का , रोज़े महेशर उम्मति का , आप ही सहारा नूरे खुदा आप हैं , शाहे खुदा आप हैं , ऐ सरवरे अम्बिया , पहरे सखा आप हैं , ये है अजमत रबने तुमपर , ये है अजमत रबने तुमपर , कुरआन उतारा दिन रात रोती है ये , उम्मत तुम्हारे लिए , हो जाये नज़रे करम , आका हमारे लिए , तयबा की वो गलियों का कब , तयबा की वो गलियों का _ _ कब , होगा नज़ारा - ShareChat
132 ने देखा
28 दिन पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post