ईश्वर की मर्ज़ी ❤️❤️❤️ #🙏 भक्ति #👌 अच्छी सोच👍
🙏 भक्ति - ईश्वर की मर्जी एक बच्चा अपनी मां के । साथ एक दुकान पर शॉपिंग करने गया तो दुकानदार ने उसकी मासूमियत देखकर उसको सारी टॉफियों के डिब्बे खोलकर कहा कि लो बेटा टॉफियां ले लो , पर उस बच्चे ने भी बड़े प्यार से उन्हें मना कर दिया । । इसके बावजूद उस दुकानदार और उसकी मां ने भी उसे बहुत कहा पर वह मना करता रहा । हारकर उस अगर मैं टॉफियां लेता तो 2 - 3 टॉफियां दुकानदार ने खुद अपने हाथ से टॉफियां ही आती जबकि अंकल के हाथ बडे निकाल कर उसको दी तो उसने ले हैं इसलिएज्यादा टॉफियां मिल गईं । लीं और अपनी जेब में डाल ली । बिल्कुल इसी तरह जब भगवान वापस आते हए उसकी मां ने पूछा , - हमें देता है तो वह अपनी मर्जी से जब अंकल तुम्हारे सामने डिब्बा देता है और वह हमारी सोच से खोल कर टॉफियां दे रहे थे तब तुमने परे होता है , हमें हमेशा उसकी नहीं लीं और जब उन्होंने अपने हाथों मर्जी में खुश रहना चाहिए । क्या पता से दी तो ले ली , ऐसा क्यों ? तब वह किसी दिन हमें पूरा समुद्र देना - उस बच्चे ने बहत खूबसूरत जवाब चाहता हो और हम हाथ में चम्मच दिया , मां मेरे हाथ छोटे - छोटे हैं । लेकर खडे हों । Ramprakash - ShareChat
125 ने देखा
1 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post