कविता 📖 - | कहो उसी से , जो कहे न किसी से । मांगो उसी से जो दे दे ख़ुशी से , चाहो उसे जो मिले किस्मत से , दोस्ती करो उसी से जो निभाए | हँसी से - ShareChat
633 ने देखा
1 साल पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post