✍️ साहित्य एवं शायरी - Shivam कुछ कह गए , कुछ सह गए . . कुछ कहते कहते रह गए , मै सही तुम गलत के खेल में , न जाने कितने रिश्ते ढह गए - ShareChat
97.5k ने देखा
1 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post