#🦟 मच्छरों भारत छोड़ो
🦟 मच्छरों भारत छोड़ो - आज की शायरी मच्छर ने आपको काटा . . . ये उसका जुनून था वाह वाह वाह . . . . . . . मच्छर ने आपको काटा . . . ये उसका जुनून था ' फिर आपने वहाँ खुजाया . . . . ये आपका सुकून था पर चाह कर भी आप उसे मार नहीं पाये गौर फरमाइये हुजूर . . . . चाह कर भी आप उसे मार नहीं पाये क्योंकि उसकी रगों में आप ही का खून था . . . ! - ShareChat
34.2k ने देखा
3 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post