अपनी भाषा को बदलें
Tap the Share button in Safari's menu bar
Tap the Add to Home Screen icon to install app
ShareChat
बेंगलुरु. भारत ने एक ऐसी बाॅर्डर मैनेजमेंट तकनीक विकसित की है, जिससे सीमा पार स्थित घरों में वर्चुअल नजर रखी जा सकेगी। केंद्रीय राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने बताया कि पहली बार इस प्रोजेक्ट को पाकिस्तान से लगी सीमा पर शुरू किया जा चुका है। मंगलवार को इसरो (इंडियन स्पेस रिसर्च आर्गनाइजेशन) के कार्यक्रम उन्नति (यूनीस्पेस नैनोसैटेलाइट असेंबली, ट्रेनिंग डेवलपमेंट) में आए जितेंद्र सिंह ने कहा, 'गर्व है कि हम इस तरह की तकनीक का प्रयोग बार्डर मैनेजमेंट में कर रहे हैं। उन्नति से 45 देशों के 90 प्रतिनिधिमंडल लाभान्वित होंगे।' अमिताभ ने पूछा था- क्या स्पेस तकनीक से टॉयलेट का पता चल सकता है? 1. जितेंद्र सिंह ने बताया कि स्पेस तकनीक आज हर घर में पहुंच चुकी है। लोग इसका ज्यादा इस्तेमाल लोकेशन का पता लगाने में करते हैं। ट्रैफिक जाम के दौरान भी लोग तकनीक की मदद लेते हैं। उन्होंने मजाकिया अंदाज में कहा कि एक कार्यक्रम के दौरान मेगास्टार अमिताभ बच्चन ने उनसे पूछा था कि क्या स्पेस तकनीक से पास में स्थित शौचालय का पता लगाया जा सकता है? मंत्री ने बताया कि उन्होंने तब जवाब दिया था कि ये चीज संभव है। उन्नति सिखाएगा नैनोसैटेलाईट को विकिसत करने का तरीका- सिवन 2. इसरो के प्रमुख के. सिवन ने बताया कि उन्नति कार्यक्रम तीन चरणों में चलाया जाएगा। इसमें कुल तीन बैच होंगे। पहले बैच में 17 देशों के 30 प्रतिभागी शामिल होंगे। यह कार्यक्रम मंगलवार से शुरू हो चुका है। इसके तहत नैनोसैटेलाइट को विकसित, असेंबल करने का तरीका बताया जाएगा। हर बैच 8 सप्ताह तक चलेगा। इसमें नैनोसैटेलाइट की थ्योरी को बताया जएगा।
#

समाचार🗞️

समाचार🗞️ - बॉर्डर मैनेजमेंट तकनीक से सीमा पार के घरों में रखी जा सकेगी नजरः केंद्रीय मंत्री केंद्रीय राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने बताया कि भारत ने सबसे पहले यह प्रोजेक्ट पाकिस्तान के नजदीक स्थित अंतरराष्ट्रीय सीमा पर शुरू कर दिया है । • वे इसरो के कार्यक्रम उन्नति ( यूनीस्पेस नैनोसैटेलाइट असेंबली , ट्रेनिंग डेवलपमेंट ) में शामिल हुए थे । इस प्रोजेक्ट से 45 देशों के 90 प्रतिनिधिमंडल लाभान्वित होंगे । - ShareChat
265 ने देखा
9 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post