@basant250
@basant250

Basant Solanki 27k

आज फिर ए तन्हाई लग जा गले, के तुझसे लिपट के रोने का बहुत दिल है, एक तू ही तो है हमसाया जिंदगी का मेरी.. वरना यहां तो हर रिश्ता, मेरी रूह का कातिल है!

अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
अनफ़ॉलो
लिंक कॉपी करें
शिकायत करें
ब्लॉक करें
रिपोर्ट करने की वजह: