@mangi215
@mangi215

M.S.B.👉RJ.13 वाला👈

समाज सेवक

#

🌸 जय श्री कृष्ण

#🌸 जय श्री कृष्ण #🙏 भक्ति #🔯19 जनवरी का राशिफल/पंचांग🌙 #🔯आज का राशिफल / पंचांग ☀️ #🔯ज्योतिष 🚩श्री गणेशाय नम:🚩 📜 दैनिक पंचांग 📜 ☀ 19 - Jan - 2020 ☀ श्री गंगानगर, भारत ☀ पंचांग 🔅 तिथि दशमी 26:53:20 🔅 नक्षत्र विशाखा 23:41:46 🔅 करण : वणिज 15:25:08 विष्टि 26:53:20 🔅 पक्ष कृष्ण 🔅 योग शूल 10:01:47 🔅 वार रविवार ☀ सूर्य व चन्द्र से संबंधित गणनाएँ 🔅 सूर्योदय 07:14:31 🔅 चन्द्रोदय 26:55:00 🔅 चन्द्र राशि तुला - 17:48:13 तक 🔅 सूर्यास्त 17:49:17 🔅 चन्द्रास्त 13:15:00 🔅 ऋतु शिशिर ☀ हिन्दू मास एवं वर्ष 🔅 शक सम्वत 1941 विकारी 🔅 कलि सम्वत 5121 🔅 दिन काल 10:34:45 🔅 विक्रम सम्वत 2076 🔅 मास अमांत पौष 🔅 मास पूर्णिमांत माघ ☀ शुभ और अशुभ समय ☀ शुभ समय 🔅 अभिजित 12:10:45 - 12:53:04 ☀ अशुभ समय 🔅 दुष्टमुहूर्त 16:24:39 - 17:06:58 🔅 कंटक 10:46:07 - 11:28:26 🔅 यमघण्ट 13:35:23 - 14:17:42 🔅 राहु काल 16:29:57 - 17:49:18 🔅 कुलिक 16:24:39 - 17:06:58 🔅 कालवेला या अर्द्धयाम 12:10:45 - 12:53:04 🔅 यमगण्ड 12:31:55 - 13:51:15 🔅 गुलिक काल 15:10:36 - 16:29:57 ☀ दिशा शूल 🔅 दिशा शूल पश्चिम ☀ चन्द्रबल और ताराबल ☀ ताराबल 🔅 भरणी, रोहिणी, आर्द्रा, पुनर्वसु, पुष्य, आश्लेषा, पूर्वा फाल्गुनी, हस्त, स्वाति, विशाखा, अनुराधा, ज्येष्ठा, पूर्वाषाढ़ा, श्रवण, शतभिषा, पूर्वाभाद्रपद, उत्तराभाद्रपद, रेवती ☀ चन्द्रबल 🔅 मेष, वृषभ, सिंह, तुला, धनु, मकर एस्ट्रोसेज पण्डित मांगी शास्त्री 9511519955
164 ने देखा
1 महीने पहले
#

🌸 जय श्री कृष्ण

#🌸 जय श्री कृष्ण #🔯18 जनवरी का राशिफल/पंचांग🌙 #🙏 भक्ति #🙏 धर्म-कर्म #🔯आज का राशिफल / पंचांग ☀️ 🚩श्री गणेशाय नम:🚩 📜 दैनिक पंचांग 📜 ☀ 18 - Jan - 2020 ☀ श्री गंगानगर, भारत ☀ पंचांग 🔅 तिथि नवमी 28:02:52 🔅 नक्षत्र स्वाति 24:16:13 🔅 करण : तैतिल 16:46:24 गर 28:02:52 🔅 पक्ष कृष्ण 🔅 योग धृति 12:24:34 🔅 वार शनिवार ☀ सूर्य व चन्द्र से संबंधित गणनाएँ 🔅 सूर्योदय 07:14:44 🔅 चन्द्रोदय 25:52:59 🔅 चन्द्र राशि तुला 🔅 सूर्यास्त 17:48:28 🔅 चन्द्रास्त 12:35:59 🔅 ऋतु शिशिर ☀ हिन्दू मास एवं वर्ष 🔅 शक सम्वत 1941 विकारी 🔅 कलि सम्वत 5121 🔅 दिन काल 10:33:44 🔅 विक्रम सम्वत 2076 🔅 मास अमांत पौष 🔅 मास पूर्णिमांत माघ ☀ शुभ और अशुभ समय ☀ शुभ समय 🔅 अभिजित 12:10:28 - 12:52:43 ☀ अशुभ समय 🔅 दुष्टमुहूर्त : 07:14:44 - 07:56:58 07:56:58 - 08:39:13 🔅 कंटक 12:10:28 - 12:52:43 🔅 यमघण्ट 14:59:28 - 15:41:43 🔅 राहु काल 09:53:10 - 11:12:23 🔅 कुलिक 07:56:58 - 08:39:13 🔅 कालवेला या अर्द्धयाम 13:34:58 - 14:17:13 🔅 यमगण्ड 13:50:49 - 15:10:02 🔅 गुलिक काल 07:14:44 - 08:33:57 ☀ दिशा शूल 🔅 दिशा शूल पूर्व ☀ चन्द्रबल और ताराबल ☀ ताराबल 🔅 अश्विनी, कृत्तिका, मृगशिरा, आर्द्रा, पुनर्वसु, पुष्य, मघा, उत्तरा फाल्गुनी, चित्रा, स्वाति, विशाखा, अनुराधा, मूल, उत्तराषाढ़ा, धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वाभाद्रपद, उत्तराभाद्रपद ☀ चन्द्रबल 🔅 मेष, वृषभ, सिंह, तुला, धनु, मकर एस्‍ट्रोसेज पण्डित मांगी शास्त्री 9511519955
135 ने देखा
1 महीने पहले
#

🌸 जय श्री कृष्ण

#🌸 जय श्री कृष्ण #🙏 भक्ति #🙏 धर्म-कर्म #🔯आज का राशिफल / पंचांग ☀️ #🔯ज्योतिष 🚩श्री गणेशाय नम:🚩 📜 दैनिक पंचांग 📜 ☀ 17 - Jan - 2020 ☀ श्री गंगानगर, भारत ☀ पंचांग 🔅 तिथि : सप्तमी 07:29:58 अष्टमी 29:35:35 🔅 नक्षत्र चित्रा 25:13:14 🔅 करण : बव 07:29:58 बालव 18:30:12 🔅 पक्ष कृष्ण 🔅 योग सुकर्मा 15:05:01 🔅 वार शुक्रवार ☀ सूर्य व चन्द्र से संबंधित गणनाएँ 🔅 सूर्योदय 07:14:53 🔅 चन्द्रोदय 24:49:59 🔅 चन्द्र राशि कन्या - 13:49:44 तक 🔅 सूर्यास्त 17:47:37 🔅 चन्द्रास्त 11:58:59 🔅 ऋतु शिशिर ☀ हिन्दू मास एवं वर्ष 🔅 शक सम्वत 1941 विकारी 🔅 कलि सम्वत 5121 🔅 दिन काल 10:32:43 🔅 विक्रम सम्वत 2076 🔅 मास अमांत पौष 🔅 मास पूर्णिमांत माघ ☀ शुभ और अशुभ समय ☀ शुभ समय 🔅 अभिजित 12:10:10 - 12:52:21 ☀ अशुभ समय 🔅 दुष्टमुहूर्त : 09:21:26 - 10:03:37 12:52:21 - 13:34:32 🔅 कंटक 13:34:32 - 14:16:43 🔅 यमघण्ट 16:23:16 - 17:05:27 🔅 राहु काल 11:12:10 - 12:31:15 🔅 कुलिक 09:21:26 - 10:03:37 🔅 कालवेला या अर्द्धयाम 14:58:54 - 15:41:05 🔅 यमगण्ड 15:09:26 - 16:28:32 🔅 गुलिक काल 08:33:59 - 09:53:04 ☀ दिशा शूल 🔅 दिशा शूल पश्चिम ☀ चन्द्रबल और ताराबल ☀ ताराबल 🔅 भरणी, रोहिणी, मृगशिरा, आर्द्रा, पुनर्वसु, आश्लेषा, पूर्वा फाल्गुनी, हस्त, चित्रा, स्वाति, विशाखा, ज्येष्ठा, पूर्वाषाढ़ा, श्रवण, धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वाभाद्रपद, रेवती ☀ चन्द्रबल 🔅 मेष, कर्क, कन्या, वृश्चिक, धनु, मीन एस्‍ट्रोसेज पंडित मांगी शास्त्री 9511519955
137 ने देखा
1 महीने पहले
#

🌸 जय श्री कृष्ण

चन्द्रराशिः वृश्चिक का आज का राशिफल (16 जनवरी, 2020) माता-पिता को अनदेखा करना आपके भविष्य की संभावनाओं को ख़त्म कर सकता है। अच्छा समय बहुत ज़्यादा दिनों तक नहीं रहता है। इंसान के कर्म ध्वनि की तरंगों की तरह हैं। साथ मिलकर ये संगीत बनाते हैं और आपस में टकराकर खड़खड़ाहट। हम जो बोते हैं, वही पाते हैं। जिन लोगों ने लोन लिया था आज उन्हें उस लोन की राशि को चुकाने में दिक्कतें आ सकती हैं। कोई दोस्त अपनी निजी समस्याओं के समाधान के लिए आपसे मश्वरा मांग सकता है। शाम के लिए कोई ख़ास योजना बनाएँ और कोशिश करें कि यह ज़्यादा-से-ज़्यादा रुमानी हो। कुछ के लिए पार्ट-टाइम नौकरी अच्छा विकल्प है। आज के दिन घटनाएँ अच्छी तो होंगी, लेकिन तनाव भी देंगी - जिसके चलते आप थकान और दुविधा महसूस करेंगे। आज के दिन आप वैवाहिक जीवन का असली स्वाद चख सकते हैं। भाग्यांक: 9 #🌸 जय श्री कृष्ण #🔯आज का राशिफल / पंचांग ☀️ #🔯ज्योतिष #🙏 भक्ति
143 ने देखा
1 महीने पहले
#

🌸 जय श्री कृष्ण

#🌸 जय श्री कृष्ण #🔯आज का राशिफल / पंचांग ☀️ #🔯ज्योतिष #🙏 धर्म-कर्म #🙏 भक्ति 🚩श्री गणेशाय नम:🚩 📜 दैनिक पंचांग 📜 ☀ 16 - Jan - 2020 ☀ श्री गंगानगर, भारत ☀ पंचांग 🔅 तिथि षष्ठी 09:43:25 🔅 नक्षत्र हस्त 26:31:09 🔅 करण : वणिज 09:43:25 विष्टि 20:34:31 🔅 पक्ष कृष्ण 🔅 योग अतिगंड 18:01:33 🔅 वार गुरूवार ☀ सूर्य व चन्द्र से संबंधित गणनाएँ 🔅 सूर्योदय 07:15:02 🔅 चन्द्रोदय 23:48:00 🔅 चन्द्र राशि कन्या 🔅 सूर्यास्त 17:46:48 🔅 चन्द्रास्त 11:22:00 🔅 ऋतु शिशिर ☀ हिन्दू मास एवं वर्ष 🔅 शक सम्वत 1941 विकारी 🔅 कलि सम्वत 5121 🔅 दिन काल 10:31:46 🔅 विक्रम सम्वत 2076 🔅 मास अमांत पौष 🔅 मास पूर्णिमांत माघ ☀ शुभ और अशुभ समय ☀ शुभ समय 🔅 अभिजित 12:09:51 - 12:51:59 ☀ अशुभ समय 🔅 दुष्टमुहूर्त : 10:45:37 - 11:27:44 14:58:20 - 15:40:27 🔅 कंटक 14:58:20 - 15:40:27 🔅 यमघण्ट 07:57:09 - 08:39:16 🔅 राहु काल 13:49:53 - 15:08:52 🔅 कुलिक 10:45:37 - 11:27:44 🔅 कालवेला या अर्द्धयाम 16:22:34 - 17:04:41 🔅 यमगण्ड 07:15:02 - 08:34:00 🔅 गुलिक काल 09:52:58 - 11:11:57 ☀ दिशा शूल 🔅 दिशा शूल दक्षिण ☀ चन्द्रबल और ताराबल ☀ ताराबल 🔅 अश्विनी, कृत्तिका, रोहिणी, मृगशिरा, आर्द्रा, पुष्य, मघा, उत्तरा फाल्गुनी, हस्त, चित्रा, स्वाति, अनुराधा, मूल, उत्तराषाढ़ा, श्रवण, धनिष्ठा, शतभिषा, उत्तराभाद्रपद ☀ चन्द्रबल 🔅 मेष, कर्क, कन्या, वृश्चिक, धनु, मीन एस्‍ट्रोसेज पंडित मांगी शास्त्री 9511519955
144 ने देखा
1 महीने पहले
#

🌸 जय श्री कृष्ण

#🌸 जय श्री कृष्ण #🙏 भक्ति #🔯आज का राशिफल / पंचांग ☀️ #🔯ज्योतिष #🙏 धर्म-कर्म 🚩श्री गणेशाय नम:🚩 📜 दैनिक पंचांग 📜 ☀ 15 - Jan - 2020 ☀ श्री गंगानगर, भारत ☀ पंचांग 🔅 तिथि पंचमी 12:12:07 🔅 नक्षत्र उत्तरा फाल्गुनी 28:07:09 🔅 करण : तैतिल 12:12:07 गर 22:56:09 🔅 पक्ष कृष्ण 🔅 योग शोभन 21:11:40 🔅 वार बुधवार ☀ सूर्य व चन्द्र से संबंधित गणनाएँ 🔅 सूर्योदय 07:15:08 🔅 चन्द्रोदय 22:44:00 🔅 चन्द्र राशि सिंह - 11:28:35 तक 🔅 सूर्यास्त 17:45:59 🔅 चन्द्रास्त 10:43:59 🔅 ऋतु शिशिर ☀ हिन्दू मास एवं वर्ष 🔅 शक सम्वत 1941 विकारी 🔅 कलि सम्वत 5121 🔅 दिन काल 10:30:50 🔅 विक्रम सम्वत 2076 🔅 मास अमांत पौष 🔅 मास पूर्णिमांत माघ ☀ शुभ और अशुभ समय ☀ शुभ समय 🔅 अभिजित कोई नहीं ☀ अशुभ समय 🔅 दुष्टमुहूर्त 12:09:32 - 12:51:36 🔅 कंटक 16:21:53 - 17:03:56 🔅 यमघण्ट 09:21:19 - 10:03:22 🔅 राहु काल 12:30:34 - 13:49:25 🔅 कुलिक 12:09:32 - 12:51:36 🔅 कालवेला या अर्द्धयाम 07:57:12 - 08:39:15 🔅 यमगण्ड 08:34:00 - 09:52:51 🔅 गुलिक काल 11:11:43 - 12:30:34 ☀ दिशा शूल 🔅 दिशा शूल उत्तर ☀ चन्द्रबल और ताराबल ☀ ताराबल 🔅 भरणी, कृत्तिका, रोहिणी, मृगशिरा, पुनर्वसु, आश्लेषा, पूर्वा फाल्गुनी, उत्तरा फाल्गुनी, हस्त, चित्रा, विशाखा, ज्येष्ठा, पूर्वाषाढ़ा, उत्तराषाढ़ा, श्रवण, धनिष्ठा, पूर्वाभाद्रपद, रेवती ☀ चन्द्रबल 🔅 मिथुन, सिंह, तुला, वृश्चिक, कुम्भ, मीन एस्‍ट्रोसेज पण्डित मांगी शास्त्री 9511519955
180 ने देखा
1 महीने पहले
#

🌸 जय श्री कृष्ण

#🌸 जय श्री कृष्ण #🚩श्री सिद्धिविनायक मंदिर पूजा #🌞सुबह की पूजा #🙏 धर्म-कर्म #🐚तिलकुटी चतुर्थी व्रत *तिलकुटी (सकट) चौथ आज* जो व्यक्ति नियमित रूप से चतुर्थी का व्रत नहीं कर सकते, वो यदि माघी चतुर्थी का व्रत कर लें, तो ही साल भर की चतुर्थी व्रत का फल प्राप्त हो जाता है। माघी तिल (तिल चौथ) चतुर्थी पर गणेश मंदिरों में भक्तों का तांता लगता है। इस दिन से दिन तिल भर बड़े हो जाते हैं। क्या करें : माघी चौथ के अवसर पर व्रतधारी को चंद्रदर्शन और गणेश पूजा के बाद व्रत समाप्त करना चाहिए। इसके अलावा पूजा के समय भगवान गणेश के 12 नामों का जाप करें। - सुबह श्री गणेश को तिल के लड्डू बनाकर भोग लगाएं। - पूजा के साथ अथर्वशीर्ष का पाठ करें। - चांदी के श्रीगणेश का अभिषेक करें। अगर चांदी के नहीं है तो पीतल, तांबे, या मिट्टी के गणेश भी पूज सकते हैं। अगर वह भी नहीं तो तस्वीर से काम चलाएं। - गणेश चालीसा का सस्वर पाठ करें। - गणेश प्रतिमा को हल्दी, दुर्वा, फूल, चंदन, तिल और गुड़ का भोग लगाएं। - दिन में अथवा गोधूली बेला में गणेश दर्शन अवश्य करें। इस दिन से प्रतिदिन गणेश नामावली का वाचन किया जाए तो सहस्र प्रकार के सुखों की प्राप्ति होती है। - रात्रि में तिल के लड्डू का भोग चंद्रमा को भी लगाएं और इसी लड्डू से व्रत खोलें। - माघ मास की श्री गणेश तिलकुटा चौथ की कथा करें। *व्रत कथा* सतयुग में राजा हरिश्चंद्र के राज्य में एक कुम्हार था। एक बार तमाम कोशिशों के बावजूद जब उसके बर्तन कच्चे रह जा रहे थे तो उसने यह बात एक पुजारी को बताई। पुजारी ने बताया कि किसी छोटे बच्चे की बलि से यह समस्या दूर हो सकती है। इसके बाद उस कुम्हार ने एक बच्चे को पकड़कर भट्टी में डाल दिया। वह संकट चौथ का दिन था। काफी खोजने के बाद भी जब उसकी मां को उसका बेटा नहीं मिला तो उसने गणेश जी के समक्ष सच्चे मन से प्रार्थना की। उधर जब कुम्हार ने सुबह उठकर देखा तो भट्टी में उसके बर्तन तो पक गए लेकिन बच्चा भी सुरक्षित था। इस घटना के बाद कुम्हार डर गया और राजा के समक्ष जाकर पूरी कहानी बताई। इसके पश्चात राजा ने बच्चे और उसकी मां को बुलवाया तो मां ने संकटों को दूर करने वाले सकट चौथ की महिमा का वर्णन किया। तभी से महिलाएं अपनी संतान और परिवार के सौभाग्य और लंबी आयु के लिए व्रत को करने लगीं। चन्द्रोदय- 8.45 पर एस्ट्रोसेज मांगी शास्त्री 9511519955
207 ने देखा
1 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
अनफ़ॉलो
लिंक कॉपी करें
शिकायत करें
ब्लॉक करें
रिपोर्ट करने की वजह: