@monu7233
@monu7233

🚩🇮🇳🌹Monu Master🌹🇮🇳🚩

मुझे ShareChat पर फॉलो करें!

🙏कोरोना वायरस से बचाव - को - कोई भी रो - रोड़पर ना - नानिकले | अगर हमसबने इसकासख्ती से पालन नहीं कियातो इसका मतलब बदलते देर नहीं लगेगा को - कोई रो - रोने वालाभी ना - नारहेगा - ShareChat
#🙏कोरोना वायरस से बचाव
🤝पीएम केयर्स फंड💰 - - पीएम केयर्स फंड - - कोरोना की कहानी - क्या आप जानते हैं । देशमै 545 साँसद , 245 राज्यसभा सांसद 4120 विधायक है । कुल मिलाकर 4910 जनातिनिधि । अगर यह सारे जनप्रतिनिधि मिलकर अपने व्यक्तिगत खातों में से 5 - 5 लाख र भारत सरकार को दे । जो इतनी बड़ी रकम भी नही है इन जनप्रतिनिधियों के लिए । नौ भारत देश को कोरोना महामारी से लड़ने के लिए 2 , 455 , 000 , 000 लाख ( 2 अरब 45 करोड़ 50 लाख रुपये इकड़े ही सकते हैं । क्यों हर बार देश का मध्यम वर्गीय परिवार के लोगों से ही देश की मदद की अपील की जानी है । क्या इन राजनेताओं की कोई जिम्मेदारी और जवाबदेही नही है भारत देश के जनता के प्रति आखिर क्यों यह माननीय सांसद और विधायक अपनी अपनी साँसद और विधायक निधि के पैसों की ही खर्च कर ही देश के सच्चे जनजातिनिधि होने का प्रमाण प्रस्तुत कर अपने कर्तव्य से पल्ला झाड़ लेते है । जबकि बी पैसा जनता द्वारा ही सरकार को टैक्स के रूप में देश को चलाने और विकास के लिए दिया जाना है । क्या अपने जनानिनिजियों से हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी यह अपील नही कर सकते देशहित के लिए इसलिए हमारी अपने माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी से प्रार्थना है कि वो भारत देश के इन माननीय जनप्रतिनिधियों से यह अपील करें की वो अपने व्यक्तिगत सालों से 5 - 5 लाख रुपये देश की सेवा के लिए दान करे । जिससे देश की जनता को इस विपत्ति के समय में आर्थिक व स्वास्थ्य कार्यों के लिये पैसों का इंतजाम हो सके । - ShareChat
#🤝पीएम केयर्स फंड💰 #📞कोरोना हेल्पलाइन #😷Covid-19
🏡घर पर रहें स्वस्थ रहें - ' ये देश आपके परिश्रम और प्रेम का सदैव आभारी रहेगा । # Doctors _ Nurses # Police # Sweepers - ShareChat
#🏡घर पर रहें स्वस्थ रहें #😷Covid-19 #🌎दुनिया में कोरोना का क़हर
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
अनफ़ॉलो
लिंक कॉपी करें
शिकायत करें
ब्लॉक करें
रिपोर्ट करने की वजह: