@railwaynews
@railwaynews

Railway News

indian railway news group

इलाहाबाद। तत्काल टिकट कैंसिल कराने पर आधा पैसा रेलवे से रिफंड होने की खबर ने खूब भूचाल मचाया हुआ है। इस योजना से वाहवाही के चक्कर में रेलमंत्री सुरेश प्रभु के ट्विटर एकाउंट से भी रीट्वीट हुआ। फिर क्या था पूरे सोशल मीडिया पर खबर वायरल हो गई। वाहवाही लूटने के चक्कर में रेलमंत्री द्वारा रीट्वीट करने से ये खबर सोशल मीडिया में सबसे बड़ी हिट बन गई और लोगों ने धड़ाधड़ कमेंट कर रेलमंत्री को ट्वीट के माध्यम से धन्यवाद देना शुरू कर दिया लेकिन रेलवे अफसरों को जब इसकी भनक लगी तो उनके भी हाथ-पांव फूलने लगे। क्योंकि बोर्ड स्तर तत्काल टिकट कैंसिल कराने पर आधा पैसा देने का कोई निर्णय ही नहीं हुआ है। गलती सामने आने पर रीट्वीट की गई खबर को रेलमंत्री के ट्विटर एकाउंट से तुरंत हटा लिया गया। लेकिन तब तक बड़ी संख्या में फॉलोअर्स का कमेंट जारी था। अचानक से प्रभू का रीट्वीट हटा तो लोगो ने प्रभू की किरकिरी भी शुरू कर दी।  नए नियम की आई थी खबर दरअसल रविवार दोपहर तत्काल रिफंड से जुड़े नए नियम की खबर कुछ वेबसाइट पर आई तो खबर सुर्खियां बटोरने लगी। इसी बीच रेल मंत्री सुरेश प्रभु और रेल मंत्रालय को ट्वीट कर दिया गया। इसमें बताया गया की एक जुलाई 2017 से तत्काल टिकट रिफंड करने पर आधा पैसा वापस मिलेगा। इस खबर में एक जुलाई से लागू होने वाले कई अन्य नए नियमों के भी बारे में बताया गया। रेलमंत्री के ट्विटर एकाउंट पर जब ये खबर पहुंची तो उसे बिना किसी जांच पड़ताल के रीट्वीट कर दिया गया। रेलमंत्री के ट्विटर एकाउंट से खबर रीट्वीट होते ही सोशल मीडिया में छा गई।  लाखों लोगों तक पहुंचा संदेश दरअसल रेलमंत्री के ट्विटर एकाउंट से लाखों की संख्या में फालोअर्स जुड़े हैं। रेलमंत्री सुरेश प्रभु और मिनिस्टरी ऑफ रेलवे के ट्विटर एकाउंट से जुड़े फालोअर्स की संख्या 51 लाख है। इसमें 26 लाख फालोअर्स सिर्फ रेलमंत्री सुरेश प्रभु के ही हैं जबकि मिनिस्ट्री ऑफ रेलवे के ट्विटर एकाउंट से जुड़े फालोअर्स की संख्या 25 लाख है। रेलवे से जुड़ी सभी सकारात्मक गतिविधियां एवं सूचनाएं ट्विटर के माध्यम से ही साझा की जाती हैं। यात्री संबंधी तमाम समस्याओं का समाधान भी ट्विटर के माध्यम से रेलवे द्वारा लंबे समय से किया जा रहा है।  रविवार जब प्रभू के एकाउंट से रीट्वीट हुआ तो ये पुख्ता हो गया की खबर पक्की है। फालोअर्स प्रभू को बधाई देने लगे। क्योंकि ये बहुत बड़ी खबर और योजना थी। देखते ही देखते ट्वीटर से लेकर व्हॉटसप, फेसबुक पर भी खबर दौड़ने लगी और प्रभू की वाहवाही होने लगी। लेकिन विभाग की नजर पड़ी तो हड़कंप मच गया क्योंकि बोर्ड में ऐसे किसी निर्णय या योजना पर चर्चा ही नहीं हुई थी। फिर क्या था प्रभू के रिट्वीट को हटाया गया तो फॉलोअर्स ने प्रभू की फजीहत भी शुरू कर दी। रेलवे बोर्ड के एडीजी पीआर ने किया इनकार मामले में रेलवे बोर्ड के एडीजी पीआर अनिल सक्सेना ने बताया की रेलवे बोर्ड द्वारा इस तरह का कोई भी निर्णय नहीं लिया गया है। फिलहाल 'भूलवश ये खबर रेलमंत्री के ट्विटर एकाउंट से रीट्वीट हुई है। बिना जांच पड़ताल के खबर कैसे रीट्वीट हुई ये जांच का विषय है। ये खबर उनके ट्विटर एकाउंट से हटा दी गई है।' #सुझाव एवं शिकायत
गहमर स्टेशन से करीब एक किलोमीटर दूर स्थित होम सिग्नल के पास रविवार की भोर में राजधानी एक्सप्रेस की तीन बोगियों में हुई लूट की घटना को अंजाम बदमाशों ने फुल प्लानिंग के साथ दी। घटना को अंजाम देने के बाद सभी बदमाश आसानी से फरार हो गए। स्थानीय लोगों में इस तरह की चर्चाओं का बाजार पूरे दिन गर्म रहा। स्थानीय स्टेशन से यात्रा शुरू करने वाले यात्री ट्रेन में सफर के दौरान सुरक्षा को लेकर काफी चिंतित भी दिखाई पड़े।  रविवार सुबह जैसे ही स्टेशन के आस-पास के लोगों को पता चला कि राजधानी जैसी महत्वपूर्ण ट्रेन में बदमाश आखिर इतनी बड़ी घटना को अंजाम देने के बाद आसानी से फरार हो गए और किसी को भनक तक नहीं लगी। कुछ लोग इस बात को लेकर चर्चा कर रहे थे कि ऐसी महत्वपूर्ण ट्रेन में एस्कार्ट रहने के बावजूद भी बदमाश ऐसी घटना को अंजाम दे सकते हैं तो सवारी और एक्सप्रेस ट्रेनों में तो यात्री अपने आप को सुरक्षित कैसे महसूस कर सकते हैं। इन तमाम चर्चाओं के बीच लोगों का ध्यान जांच करने पहुंचे पुलिस कर्मियों पर जाकर टिक जा रहा था। इस घटना को लेकर लोगों के जेहन में बार-बार ट्रेन की सुरक्षा को लेकर कई सवाल उठ रहे थे। #राष्ट्रीय खबरें
मुजफ्फरपुर।पेपरलेस आरक्षण टिकट चार्ट के लिए जंक्शन पर डिजिटल डिसप्ले बोर्ड लगेगा। सोनपुर रेल मंडल के निर्देश के आलोक में शनिवार को क्षेत्रीय प्रबंधक जेपी त्रिवेदी व प्रवर वाणिज्य निरीक्षक राजीव रंजन ओझा ने डिजिटल डिसप्ले बोर्ड लगाने को जगह की पहचान की। प्लेटफॉर्म नंबर एक पर सुधा मिल्क पार्लर के पास जगह चयनित की गयी। यहां पर आधा दर्जन स्क्रीन लगायी जायेगी। स्क्रीन का कनेक्शन जंक्शन स्थित यात्री आरक्षण टिकट केंद्र से होगा। रेलवे का सिग्नल व टेली कम्युनिकेशन विभाग स्क्रीन के लिए सर्वर लगायेगा। 15 अप्रैल तक पेपरलेस चार्ट सुविधा शुरू की जायेगी #राष्ट्रीय खबरें
: रेलवे सुलतानपुर के पास लंभुआ और कोइरीपुर रेलवे स्टेशनों के बीच सिग्नल प्रणाली को बेहतर करने के लिए नॉन इंटरलॉकिंग का काम करेगा। इसके चलते बेगमपुरा एक्सप्रेस और श्रमजीवी एक्सप्रेस सहित 30 ट्रेनें 29 से निरस्त रहेंगी। सुलतानपुर होकर चलने वाली अप व डाउन दिशा की सदभावना एक्सप्रेस 30 मार्च से पांच अप्रैल तक निरस्त रहेगी। जबकि सुलतानपुर-वाराणसी रूट की चार पैसेंजर ट्रेनें भी रद कर दी गई हैं। 1रेलवे सुलतानपुर-वाराणसी रेलखंड का दोहरीकरण कर रहा है। इस रूट पर दोहरीकरण बाद ट्रेन संचालन के लिए सिग्नल प्रणाली का काम पूरा किया जाएगा। इसके लिए उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल प्रशासन पांच दिन का ब्लॉक लेगा। जिसके चलते रेलवे को सुलतानपुर रेलखंड की महत्वपूर्ण ट्रेनों को निरस्त करना पड़ेगा। इन ट्रेनों के निरस्त होने से जम्मूतवी और नई दिल्ली सहित कई स्टेशनों के यात्रियों को मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा।12237 >>बेगमपुरा >>29 मार्च से 5 अप्रैल112238 >>बेगमपुरा >>30 मार्च से 6 अप्रैल112327 >>उपासना >>31 मार्च से 4 अप्रैल112328 >>उपासना >>1 अप्रैल से 5 अप्रैल112331 >>हिमगिरी >>28 मार्च से 4 अप्रैल112332 >>हिमगिरी >>30 मार्च से 6 अप्रैल112369 >>कुंभ >>30 मार्च से 3 अप्रैल112370 >>कुंभ >>30 मार्च से 4 अप्रैल112391 >>श्रमजीवी >>30 मार्च से 5 अप्रैल112392 >>श्रमजीवी >>31 मार्च से 6 अप्रैल113049>>हावड़ाअमृतसर >>28 मार्च से 4 अप्रैल 113050 >>अमृतसर हावड़ा >>30 मार्च से 6 अप्रैल113239 >>पटना कोटा >>31 मार्च से 5 अप्रैल113240 >>कोटा पटना >>1 से 4 अप्रैल113413 >>फरक्का >>30 मार्च से 3 अप्रैल113414 >>फरक्का >>1 से 5 अप्रैल114524 >>हरिहर >>1 से 4 अप्रैल114523 >>हरिहर >>3 से 6 अप्रैलट्रेन नंबर नाम निरस्त #राष्ट्रीय खबरें
उत्तर प्रदेश की कमान संभालने के बाद से ही मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी फुल एक्शन में हैं। मुख्यमंत्री योगी जहां अधिकारियों के साथ लगातार बैठकें करके सुरक्षा व्यवस्था का जायजा ले रहे हैं और कड़े निर्देंश दे रहे हैं वहीं सूबे में विकास कार्यों का भी जायजा ले रहे हैं। इसी कड़ी में सीएम योगी ने आज लखनऊ में एक अहम बैठक की और अधिकारियों को राज्य में चल रहे मेट्रो के विकास कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। वहीं उन्होंने इलाहाबाद, मेरठ, आगरा, गोरखपुर, झांसी में भी मेट्रो चलाने के लिए तेजी से DPR तैयार करने के निर्देश दिए। बताया जा रहा है कि योगी सरकार राज्य अहम जिलों में जल्द से जल्द यातायात व्यवस्था सुधारने और मेट्रो ट्रैक के निर्माण पर जोर दे रही है। #योगी आदित्यनाथ
12142 लोकमान्य तिलक टर्मिनल सुपरफास्ट एक्सप्रेस रविवार को बिना पेंट्रीकार के पाटलिपुत्र स्टेशन से मुंबई के लिए रवाना हो गई। पटना। 12142 लोकमान्य तिलक टर्मिनल सुपरफास्ट एक्सप्रेस रविवार को बिना पेंट्रीकार के पाटलिपुत्र स्टेशन से मुंबई के लिए रवाना हो गई। यात्रियों ने पाटलिपुत्र स्टेशन पर जमकर हंगामा किया। लोकमान्य तिलक टर्मिनल सुपरफास्ट पाटलिपुत्र स्टेशन ने दिन के ग्यारह बजे खुली। यह ट्रेन 30 घंटे में मुंबई पहुंचती है। लंबी दूरी की गाड़ी है। बिना पेंट्री कार के रवाना होने की सूचना से यात्री परेशान रहे। यात्रियों के हंगामे के बीच ट्रेन को रवाना कर दिया गया। रेल अधिकारियों का कहना है कि मुबई से आने के क्रम में यह ट्रेन बिना पेंट्रीकार के आई थी। इस वजह से उपलब्ध नहीं कराया जा सका। #अन्य न्यूज़
विश्व की पहली हाई टेक रेलगाड़ी, जहा सभी बीमारी का इलाज होता है हर हर मोदी #अन्य न्यूज़