👀 कोरोना पे सरकारी फैसले

👀 कोरोना पे सरकारी फैसले

100
133 पोस्ट
61.1K जण देख्या
👀 कोरोना पे सरकारी फैसले
देश में कोरोना संकट की वजह से अर्थव्यवस्था पर भी बड़ा असर पड़ा है।  इस बीच गुरुवार को भारत सरकार ने बड़ा फैसला किया है। फैसले के अनुसार, केंद्रीय कर्मचारियों को मिलने वाले डीए यानी महंगाई भत्ते बढ़ोतरी पर रोक लगा दी गई है।  ये रोक एक जुलाई 2021 तक जारी रहेगी। वित्त मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आदेश के अनुसार, कोरोना वायरस के संकट की वजह से 1 जनवरी, 2020 के बाद से केंद्रीय कर्मचारी या पेंशनधारी को मिलने वाली डीए की राशि नहीं दी जाएगी।  वहीं, 1 जुलाई 2020 से जो एडिशनल डीए मिलना था उसको भी नहीं दिया जाएगा। #👀 कोरोना पे सरकारी फैसले
लॉकडाउन को तीन मई तक बढ़ाए जाने के बाद रेलवे ने भी अपनी सभी यात्री ट्रेनें 3 मई तक रद्द करने का ऐलान किया है।  आपको बता दें कि रेल मंत्रालय ने कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए लिए सभी यात्री ट्रेनों को 14 अप्रैल तक नहीं चलाने का ऐलान किया था।  हालांकि, मालगाड़ियां चलाई जा रही हैं। देश के अलग-अलग हिस्सों में लाखों लोग फंस गए हैं और उन्हें अपने घर पहुंचने के लिए ट्रेनों के शुरू होने का इंतजार है। IRCTC के अधिकारी ने कहा इस अवधि के दौरान जिन यात्रियों ने टिकट बुक कराई है, उन सभी को पूरा रिफंड मिलेगा। #👀 कोरोना पे सरकारी फैसले
#👀 कोरोना पे सरकारी फैसले
#👀 कोरोना पे सरकारी फैसले #👆 राजस्थान री धरोहर
00:17 / 769.8 KB
#👀 कोरोना पे सरकारी फैसले
राजस्थान के अजमेर में कोरोना वायरस के केस पॉजिटिव मिलने के बाद चिकित्सा क्षेत्र में बड़ा बदलाव किया गया है। एक हजार बेड वाले संभाग के सबसे बड़े जवाहर लाल नेहरू अस्पताल को पूरी तरह खाली करवा लिया गया है। अब इस अस्पताल में सिर्फ कोरोना वायरस से संबंधित मरीज ही रखे जायेंगे। साथ ही संदिग्ध और पॉजिटिव मरीजों को अलग-अलग इसी अस्पताल में रखा जाएगा।वहीं, जेएलएन अस्पताल के परिसर से कुछ दूर बने कार्डियोलॉजी और यूरोलॉजी विभाग में अस्थाई तौर पर इमरजेंसी  चिकित्सा सुविधाएं शिफ्ट की जा रही है। अब जेएलएन अस्पताल में आउटडोर पूरी तरह बंद कर दिया गया है। साथ ही इमरजेंसी मरीज ही कार्डियोलॉजी और यूरोलॉजी विभाग में देखे जाएंगे।चिकित्सा विभाग के सूत्रों के अनुसार- सर्जिकल व्यवस्था अब यूरोलॉजी विभाग में होगी, जबकि मेडिसन से जुड़े चिकित्सक कार्डियोलॉजी विभाग में अपनी सेवाएं देंगे। कार्डियोलॉजी में ही आपातकालीन ईकाई चलेगी। कार्डियोलॉजी और यूरोलॉजी में भर्ती अधिकांश मरीजों को छुट्टी दी जा रही है। साथ ही सरकारी स्तर पर अब अतिगंभीर मरीजों का ही इलाज होगा। #👀 कोरोना पे सरकारी फैसले
00:10 / 501 KB
nice job #👀 कोरोना पे सरकारी फैसले #😨 कोरोना का चुटकुला #😀 हंसना मना है 😀 #🙏 नमस्कार करो : स्वस्थ रहो
देश भर में फैले कोरोना वायरस के मद्देनजर भारतीय रेलवे ने भी ट्रेन की बोगियों को आइसोलेशन वार्ड में तब्दील किया है। रेलवे की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार उत्तर रेलवे के तहत जगाधरी वर्कशॉप में 28 बोगियों को आइसोलेशन वार्ड में बदला गया है। वहीं रेलवे ने कहा कि जरूरत आने पर वह ऐसे तीन लाख आइसोलेशन बेड बना सकता है। #👀 कोरोना पे सरकारी फैसले
#👀 कोरोना पे सरकारी फैसले #🤵 पीएम मोदी का संदेश #❌ 'कोरोना' महामारी : अपडेट #📞 कोरोना वायरस: हेल्पलाइन #🙏 कोरोना से बचाव के तरीके
ब्रेकिंग न्यूज़
#👀 कोरोना पे सरकारी फैसले कोरोना से लड़ाई के लिए विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा - सरकार ने किये बड़े 10 ऐलान :  1. पैकेज का बड़ा हिस्सा गरीबों के अकाउंट योजना के तहत में सीधा जमा किया जाएगा, ये प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत होगा। 2. सरकार ने कोरोना वायरस से लड़ने में अपना योगदान देने वाले स्वास्थ्य कर्मचारियों को 50 लाख रुपये का इंश्योरेंस देने का ऐलान किया है। इससे डॉक्टरों, पारामेडिक और स्वास्थ्य कर्मचारियों को फायदा मिलेगा। 3.  प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना 80 करोड़ लोगों को सस्ते दर अनाज मिलेगा। सरकार ने कहा कि कोरोना वायरस की वजह से कोई भी गरीब खाना को लेकर चिंता न करे। गरीब लोगों को 5 किलो अतिरिक्त अनाज 3 महीने मुफ्त में मिलेगा। उनको एक किलो दाल भी फ्री में मिलेगा. गेहूं, चावल के साथ दाल भी गरीबों को मिलेगा। 4.  किसानों को 6000 रुपये सालाना मिल रहा है उन्हें तुरंत 2000 रुपये दिए जाएं, 8.70 करोड़ किसान इसका फायदा ले सकेंगे। 5.मनरेगा में मजदूरी बढ़ाई गई है अब 182 रुपये से बढ़ाकर 202, करीब 5 करोड़ लोग फायदा लेंगे। 6.गरीब बुजुर्ग, गरीब विधवा और गरीब दिव्यांगों को इस कठिन वक्त में दिक्कत न हो तो उन्हें 1000 रुपये अतिरिक्त तीन महीनों के लिए मिलेंगे। ये दो​ किश्तों में डीबीटी के जरिए उनके बैंक खाते में जाएगा। 7. प्रधानमंत्री जनधन खाताधार महिलाओं के खाते में प्रति महीने 500 रुपये ट्रांसफर किए जाएंगे. इससे 20 करोड़ जनधन महिलाओं को फायदा होगा। यह डीबीटी के माध्यम से ट्रांसफर होंगे। 8.अन्न-धन और गैस की चिंता खत्म होगी। करीब 8.3 बीपीएल करोड़ परिवारों को उज्जवला स्कीम के तहत 3 महीने तक फ्री एलपीजी सिलेंडर दिए जाएंगे। 9. पीएफ वालों के लिए सरकार इंप्लायी और इंप्लायर का हिस्सा खुद जमा करेगी। 12%, 12% के हिसाब से ये 24% होगा, अगले तीन महीने सरकार भरेगी। 10. ये उन सभी संस्थानों के लिए हैं, जिनके यहां 100 कर्मचारी तक हैं और उन 100 कर्मचारी में से 90 फीसदी तक कर्मचारी 15000 रुपये से कम की मासिक सैलरी पाते हैं। इससे 80 लाख से ज्यादा कर्मचारी और 4 लाख से ज्यादा संस्थानों को फायदा होगा। #👀 कोरोना पे सरकारी फैसले
#👀 कोरोना पे सरकारी फैसले
कोरोना से लड़ाई के लिए विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा - सरकार ने किये बड़े 10 ऐलान :  1. पैकेज का बड़ा हिस्सा गरीबों के अकाउंट योजना के तहत में सीधा जमा किया जाएगा, ये प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत होगा। 2. सरकार ने कोरोना वायरस से लड़ने में अपना योगदान देने वाले स्वास्थ्य कर्मचारियों को 50 लाख रुपये का इंश्योरेंस देने का ऐलान किया है। इससे डॉक्टरों, पारामेडिक और स्वास्थ्य कर्मचारियों को फायदा मिलेगा। 3.  प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना 80 करोड़ लोगों को सस्ते दर अनाज मिलेगा। सरकार ने कहा कि कोरोना वायरस की वजह से कोई भी गरीब खाना को लेकर चिंता न करे। गरीब लोगों को 5 किलो अतिरिक्त अनाज 3 महीने मुफ्त में मिलेगा। उनको एक किलो दाल भी फ्री में मिलेगा. गेहूं, चावल के साथ दाल भी गरीबों को मिलेगा। 4.  किसानों को 6000 रुपये सालाना मिल रहा है उन्हें तुरंत 2000 रुपये दिए जाएं, 8.70 करोड़ किसान इसका फायदा ले सकेंगे। 5.मनरेगा में मजदूरी बढ़ाई गई है अब 182 रुपये से बढ़ाकर 202, करीब 5 करोड़ लोग फायदा लेंगे। 6.गरीब बुजुर्ग, गरीब विधवा और गरीब दिव्यांगों को इस कठिन वक्त में दिक्कत न हो तो उन्हें 1000 रुपये अतिरिक्त तीन महीनों के लिए मिलेंगे। ये दो​ किश्तों में डीबीटी के जरिए उनके बैंक खाते में जाएगा। 7. प्रधानमंत्री जनधन खाताधार महिलाओं के खाते में प्रति महीने 500 रुपये ट्रांसफर किए जाएंगे. इससे 20 करोड़ जनधन महिलाओं को फायदा होगा। यह डीबीटी के माध्यम से ट्रांसफर होंगे। 8.अन्न-धन और गैस की चिंता खत्म होगी। करीब 8.3 बीपीएल करोड़ परिवारों को उज्जवला स्कीम के तहत 3 महीने तक फ्री एलपीजी सिलेंडर दिए जाएंगे। 9. पीएफ वालों के लिए सरकार इंप्लायी और इंप्लायर का हिस्सा खुद जमा करेगी। 12%, 12% के हिसाब से ये 24% होगा, अगले तीन महीने सरकार भरेगी। 10. ये उन सभी संस्थानों के लिए हैं, जिनके यहां 100 कर्मचारी तक हैं और उन 100 कर्मचारी में से 90 फीसदी तक कर्मचारी 15000 रुपये से कम की मासिक सैलरी पाते हैं। इससे 80 लाख से ज्यादा कर्मचारी और 4 लाख से ज्यादा संस्थानों को फायदा होगा। #👀 कोरोना पे सरकारी फैसले