30 अगस्त की न्यूज़
नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजनशिप (एनआरसी) की अंतिम सूची का प्रकाशन शनिवार को किया जाएगा। इसके बाद ही असम में 41 लाख लोगों के भाग्य का फैसला होगा कि वे देश के नागरिक हैं या नहीं। असम पुलिस और सरकार ने राज्य में लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। पुलिस प्रशासन ने लोगों से कहा है कि कुछ असामाजिक लोग एनआरसी को लेकर भ्रम फैला रहे हैं, उन पर ध्यान न दें। केंद्र और राज्य सरकार ने राज्य में सुरक्षा कड़ी कर दी है। असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने लोगों से शांति और भाईचारा बनाए रखने की अपील की है। कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने से पहले असम से केंद्रीय सुरक्षा बलों की 55 कंपनियों को हटाया गया था। हालांकि अब सरकार के अनुरोध पर 51 कंपनियों को तैनात किया गया है। 31 जुलाई को प्रकाशित होनी थी सूची यह फाइनल एनआरसी लिस्ट 31 जुलाई को प्रकाशित होनी थी, लेकिन राज्य में बाढ़ के कारण एनआरसी अथॉरिटी ने इसे 31 अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया था। इससे पहले 2018 में 30 जुलाई को एनआरसी का फाइनल ड्राफ्ट आया था। लिस्ट में शामिल नहीं लोगों को दोबारा वेरीफेकशन के लिए एक साल का समय दिया था। #30 अगस्त की न्यूज़ #📢 राजनीतिक चर्चा #📺 ब्रेकिंग न्यूज
#

30 अगस्त की न्यूज़

30 अगस्त की न्यूज़ - असम / एनआरसी की अंतिम सूची कल जारी होगी , पुलिस की अपील - समाज में भ्रम पैदा करने वालों के बहकावे में न आएं • असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने लोगों से शांति और भाईचारा बनाए रखने की अपील की । सीआरपीएफ की 55 कंपनियों को असम से कश्मीर भेजा । गया था , सरकार के अनुरोध पर 51 कंपनियां फिर तैनात की - ShareChat
169 ने देखा
2 महीने पहले
#30 अगस्त की न्यूज़ साथियों, ये हमारे व्यवस्था का काला सच है। सारी सरकारी सुविधाएँ हमारी बेहतरी के लिए बनाई गयी। पुलिस प्रसाशन, जो हमारे सुरक्षा के लिए बनी थी, वह अपना कार्य किस तरह कर रही है, शर्मनाक है। यह वीडियो गोरखपुर के चिलुआताल थाने की है, जहाँ एक महिला को थाने बुला कर पुलिस कर्मचारी ने सभी के सामने भद्दी-भद्दी गालियां दी। प्रॉपर्टी डीलर से पैसा लेकर ज़मीन के सिलसिले में इस महिला के साथ, यह व्यवहार किया गया। केंद्र की भाजपाई सरकार और फ़र्ज़ी समाजवादी सरकार में कोई फर्क नज़र नहीं आता। गौरतलब है कि थानेदार का नाम रामपाल 'यादव'(Yadav) है। उत्तरप्रदेश की प्रसाशन व्यवस्था किस तरह भ्रष्ट और क्रूर हो चुकी है, इसके उदाहरण हमें पहले मिल चुके हैं। पर इस वीडियो ने सारी हदें पार कर दी। #भक्ति_मूवमेंट #लोकतंत्र_की_लड़ाई https://www.facebook.com/groups/750253898354808/permalink/2415615308485317/?sfnsn=scwspmo
#

30 अगस्त की न्यूज़

Bhuvi Singh
Social Sewa - Human Seva जवळ ७२,२७५ सदस्य. Only Social Sewa and Human Seva is our Aim आहेत
98 ने देखा
2 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post