📰 2 अगस्त की न्यूज़
देश के कई हिस्से इस वक्त भारी बारिश और बाढ़ की त्रासदी झेल रहे हैं. बिहार और असम के बाद अब गुजरात के बड़ोदरा शहर में भारी बारिश के कारण जल जमाव की स्थिति पैदा हो गई है. शहर में बारिश संबंधी घटनाओं में दो लोगों की मौत की खबर है, जबकि पांच हजार से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. राहत और बचाव कार्यो में एनडीआरएफ और राज्‍य आपदा मोचन बल के दल लगाए गए है. इसके अलावा सेना की दो कंपनियां और राज्‍य सरकार के विभिन्‍न पुलिस बलों के जवान भी बचाव अभियान में लगे हुए है. अब तक एक लाख खाने के पैकेट तैयार किए गए जिसमें से साढे बारह हजार पैकेट बाढ़ से जूझ रहे लोगों को बांटे जा चुके हैं. मौसम विभाग के मुताबिक अगले तीन दिनों तक राज्‍य में तेज़ बारिश की संभावना है. #Vadodaraflood #VadodaraRains
#

📰 2 अगस्त की न्यूज़

📰 2 अगस्त की न्यूज़ - ShareChat
217 ने देखा
1 महीने पहले
#📰 2 अगस्त की न्यूज़ 400 एकड़ जमीन खरीदी गई, सभी पेमेंट चेक से देकर रजिस्ट्री करवाई गई. कानून 3 साल के अंदर जमीन बेचने वाला किसी भी तरह के जोर-जबरदस्ती, दबाव या अनियमितता के खिलाफ माननीय न्यायालय में अपील कर के रजिस्ट्री कैंसिल करवा सकता है. 14 साल बाद सिर्फ 5 बीघे जमीन को जबरदस्ती कब्ज़ा करने का 12 FIR दर्ज कर चुकी है रामपुर पुलिस राज्य सरकार के दबाव में. जरा सोचिए जहां यूनिवर्सिटी के लिए 400 एकड़ जमीन सर्वसम्मति से खरीदी गई उसमे सिर्फ 5 बीघा जमीन पर भूमाफिया घोसित करना वो भी डेढ़ दशक बाद. ये बदले की भावना नहीं है तो क्या है ? देश के सबसे बड़े सूबे के मुखिया की चले तो सर सैयद अहमद खां और पंडित मदन मोहन मालवीय को भी भू-माफिया घोषित कर के उनके मरणोपरांत मुकदमा दाखिल कर दे जिन लोगों ने अपनी पूरी ज़िंदगी AMU और BHU जैसे शानदार इदारे क़ायम करने में वक़्फ़ कर दी. सोशल मीडिया और नेशनल मीडिया पर फैली साम्प्रदायिकता के प्रभाव में देश की अधिकांश जनता सोचने-समझने की सलाहियत खो चुकी है. आप इनके बहकावे में मत आइये. जौहर यूनिवर्सिटी हमारा गौरव है इसे खत्म नहीं होने देंगे. #WeStandWithAzamKhan
#

📰 2 अगस्त की न्यूज़

📰 2 अगस्त की न्यूज़ - ShareChat
159 ने देखा
1 महीने पहले
#📰 2 अगस्त की न्यूज़ #📺 ब्रेकिंग न्यूज #📰 उन्नाव केस: अब दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट ने उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता को लखनऊ के अस्पताल से दिल्ली लाने का फैसला टाल दिया है। सुनवाई के दौरान शुक्रवार को सॉलिसिटर जनरल ने कोर्ट को बताया कि पीड़िता के परिजन चाहते हैं कि जब तक उनकी बेटी और वकील की हालत ठीक नहीं हो जाती है, उन्हें लखनऊ के किंग जॉर्ज अस्पताल (केजीएमयू) से शिफ्ट न किया जाए। इसके अलावा शीर्ष अदालत ने पीड़िता के चाचा को रायबरेली जेल से तिहाड़ जेल शिफ्ट करने का आदेश दिया है। उधर, पीड़‍िता के साथ दुर्घटना मामले में शुक्रवार कोट्रकड्राइवर और क्लीनर कोसीबीआई कोर्ट में पेश किया जाएगा। सीबीआईड्राइवर आशीष पाल और क्लीनर मोहन श्रीवास को रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सीआरपीएफ नेपीड़िता के परिवार और वकीलों को सुरक्षा कवर दे दिया है। सीबीआई ने मामले की जांच कर रहे पुलिसवालों को लखनऊ बुलाया है। सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को 7 दिन के अंदर हादसे की जांच पूरी करने के निर्देश दिए हैं। शुक्रवार को सीआरपीएफ उन्नाव स्थित पीड़िता के गांव पहुंच गई। परिजनके अलावापीड़िता के चाचा के मुकदमे की पैरवी कर रहे वकील को भी सीआरपीएफ सुरक्षा दी है। उनकी सुरक्षा में 4 जवान तैनात किए गए हैं। इससे पहलेप्रदेशसरकार ने देर रात पीड़िता के परिजनको 25 लाख रुपए की मदद का चेक सौंपा। पांचवें दिन भी पीड़िता की हालत में सुधार नहीं रविवार (28 जुलाई) को रायबरेली जाते वक्त सड़क हादसे का शिकार हुई पीड़िता की हालत नाजुक है। वह लखनऊ के केजीएमयू मेंवेंटिलेटर पर है। पांचवें दिन भी उसकी हालत में सुधार नहीं है। हादसे में पीड़िता की मौसी और चाची की मौत हो गई थी। चाची, दुष्कर्म मामले में सीबीआई की गवाह भी थीं।इस मामले में मंगलवार को सीबीआई ने पीड़िता के चाचा की तहरीर पर विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उसके भाई समेत 10 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था। पीड़िता की चिट्‌ठी पर सुप्रीम कोर्ट में हुई थी सुनवाई गुरुवार कोसुप्रीम कोर्ट ने उन्नाव की दुष्कर्म पीड़िता की 12 जुलाई को चीफ जस्टिस को लिखी चिट्ठी पर सुनवाई की थी। इस दौरान चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने उत्तर प्रदेश सरकार को निर्देश दिए कि पीड़ित और उसके परिजनको सुरक्षा मुहैया कराई जाए। इसके अलावा अंतरिम राहत के तौर पर 25 लाख मुआवजा भी दिया जाए। कोर्ट ने दुष्कर्म पीड़िता से जुड़े सभी मामले दिल्ली ट्रांसफर करने के आदेश भीदिए थे। इसके अलावा सीबीआई को निर्देश दिया था किसड़क हादसे की जांच 7 दिन के भीतर और बाकी मामलों की सुनवाई 45 दिन के भीतर पूरी की जाए। 2017 में दुष्कर्म हुआ था लड़की से 2017 में सामूहिक दुष्कर्म हुआ था। आरोप है कि विधायक सेंगर और अन्य ने नौकरी दिलाने के बहाने लड़की से दुष्कर्म किया। पीड़िता उस वक्त नाबालिग थी। बाद में पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गई। आरोप है कि उसके पिता से विधायक ने ही मारपीट की थी। पिता की मौत के बाद पीड़िता ने लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास के सामने आत्मदाह की कोशिश की थी। इसके बाद एसआईटी को जांच सौंपी गई थी। अभी जांच सीबीआई के पास है। बुधवार को भाजपा ने विधायक सेंगर को पार्टी से निष्कासित कर दिया। सेंगर अभी सीतापुर कीजेल में है। दुष्कर्म मामले में अब तक 5 एफआईआर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने दुष्कर्म मामले की जानकारी ली। सॉलिसिटर जनरल ने बताया कि दुष्कर्म से जुड़े मामले में 4 एफआईआर हुई थीं। ये आरोपियों और पीड़ित पक्ष ने एकदूसरे के खिलाफ दर्ज कराई हैं। पांचवीं एफआईआर रायबरेली में हुए कार एक्सीडेंट से जुड़ी है। पांच में से तीन मामलों में चार्जशीट दायर हो चुकी है।
#

📰 2 अगस्त की न्यूज़

📰 2 अगस्त की न्यूज़ - ShareChat
235 ने देखा
1 महीने पहले
कोई और पोस्ट नहीं हैं
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post