इंसानियत
#

इंसानियत

㋡मिट्टी का गुड्डा㋡
#🖌नाम आर्ट 💖अगर पोस्ट अच्छा लगे तो फॉलो जरूर करें💖 ____________________________________ 💖लाइक शेयर कमेंट जरूर करें Follow Me💖 _____________________________________
318 ने देखा
9 महीने पहले
# माँ मेरा # कसूर नही था________ एक चाचू से चॉकलेट ही तो ली थी .. __________________ # बाबा सा वो लगता था !! मुझे बोला तुम # बेटी हो मेरी !! _________________ उसके पहलू मे बैठ गई मै .. चॉकलेट खाती , बाते करती .. _________________हाथ मेरे सर पर जो फेरा .. मै समझी थी इंसान ही ही होगा ... उसकी भी कोई #बेटी होगी सायद उसने इसलिए चुम्मा मुझको.. मै भी खुश होकर गले से लग गयी.... ___________ #माँ मेरा #कसूर नहीं था...... एक चाचू से चॉकलेट ले ली .. 10 का नोट भी पकड़ाया था .. मुझको जैसे बाबा याद आये ... खुशी से लेकर सोचा मैन्ने .. चाचू के पैसे से 2 rupee की चॉकलेट और भी लैनी है मैने .. 3 Rupee भइया को दुगी .. 5 Rupee की गुडिया भी लेनी है मैने.. ऐसे मै वो बाते करता घर से दुर ले ले आया मुझे.. #माँ मेरा कसूर नहीं था .. इक चाचू से चॉक लेट ले ली , मुझको कुछ भी समझ ना आया... उसने अचानक लहजा बदला.. मुझे यू # जमीन पर लैटाया .... मुँह मेरा जो बंद किया तो... मुझे फिर मालूम नही था.. # चिल्हाकर तुझको बुलाना चाहा # ए_माँ .. #माँ मेरे मासूम से जीस्म को चाचू ने _______________________माँस का टुकड़ा समझा.. # कुत्ते की तरह काटा मुझको.. # बिल्ली की तरह वो देख रहा था. .. #माँ अब मै सह ना पायी .. आज तेरी कली मुरझा गई.. #माँ मेरे हाथ मे दैखो... # एक चॉकलेट तो खा ली थी मैंने.. _____________________और एक हाथ में होगी .. #माँ अबकी बार अगर पैदा होऊ मैं .. मुझको खुद से दुर ना करना #माँ सुनो सुनो मैं माँस का टुकड़ा थी क्या.??? मैने क्या मांगा था.?? एक चॉकलेट के बदले? MAA मै जान गवाकर कर आयी !! # Maa मैं चिड़िया थी तेरी.. एक दाने पर जान गवाई .. सुनो #माँ अबकी बार # पैदा हौऊ मैं .. तो मुझको खुद से दुर ना करना !!! _____________________मुझको खुद से दुर ना करना !!! _________ # माँ_मेरा_कसूर_नही_था_____
#

इंसानियत

इंसानियत - ShareChat
735 ने देखा
1 साल पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post