29 अक्टूबर की न्यूज़
#29 अक्टूबर की न्यूज़
मेक इन इंडिया: आज पहली बार रेल ट्रैक पर दौड़ेगी बिना इंजन वाली ट्रेन, जानें खास बातें नई दिल्ली: आज भारत में पहली बार बिना इंजन वाली ट्रेन दौड़ेगी. आज इसका परीक्षण किया जाएगा. यह सेमी हाईस्पीड ट्रेन है और इसका नाम 'टी 18' दिया गया है. यह ट्रेन मेक इन इंडिया के तहत चेन्नई स्थित इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (आईसीएफ) ने बनाया है. जिसकी रफ्तार 160 किमी प्रति घंटा होगी. रेल मंत्रालय के मुताबिक, 'टी 18' मौजूदा शताब्दी एक्सप्रेस के बेड़े के ट्रेनों की जगह लेगी. उन्होंने कहा कि आईसीएफ इस तरह के छह ट्रेनों का सेट तैयार करेगी. ट्रेन में है ये सुविधाएं - ट्रेन 18 इंटर-कनेक्टेड, ऑटोमेटिक दरवाजा, वाई-फाई और इंफोटेमेंट, जीपीएस आधारित यात्री सूचना प्रणाली, घूमने वाली सीटें, जैव-वैक्यूम प्रणाली और माड्यूलर शौचालय से लैस है - साल 2018 में ट्रेन बनने की वजह से ट्रेन का नाम टी-18 दिया गया है. ट्रेन का वजन काफी कम होगा, कोच की पूरी बॉडी एल्यूमिनियम की बनाई गई है. - 16 कोचों वाली ये ट्रेन शताब्दी की तुलना में सफर के समय को 15 प्रतिशत तक घटा सकती है. ट्रेन को महज 18 महीनों में तैयार किया गया है. #29 अक्टूबर की न्यूज़
लखनऊ: जिस थाने में सिपाही हैं पिता उस एरिया का SP बना बेटा, करेंगे सैल्यूट पिता अब अपने ही आईपीएस बेटे के मातहत के रूप में काम करेंगे. अनूप सिंह उन्नाव में तैनात थे और अब उनका तबादला कर उन्हें लखनऊ के एसपी नार्थ का चार्जे दिया गया है. जहां पिता जनार्दन सिंह स्थानीय थाने विभूतिखंड में बतौर सिपाही के पद पर तैनात... लखनऊ: एक पिता के लिए इससे ज्यादा गर्व की बात क्या हो सकती है कि उसका बेटा उससे बड़े पद पर हो. उससे ज्यादा तरक्की करे. ऐसा ही कुछ लखनऊ के विभूतिखंड थाने में तैनात सिपाही जनार्दन सिंह के साथ हुआ है. जनार्दन सिंह का बेटा आईपीएस बन चुका है. इससे ज्यादा खुशी की बात यह है कि बेटे को भी लखनऊ जिले में ही तैनाती मिल गई है. पिता अब अपने ही आईपीएस बेटे के मातहत के रूप में काम करेंगे. अनूप सिंह उन्नाव में तैनात थे और अब उनका तबादला कर उन्हें लखनऊ के एसपी नार्थ का चार्जे दिया गया है. जहां पिता जनार्दन सिंह स्थानीय थाने विभूतिखंड में बतौर सिपाही के पद पर तैनात हैं. अनूप सिंह के मुताबिक पिता से बहुत कुछ सीखा है और उन्हें इस बात की ख़ुशी भी है कि अब पिता पुत्र दोनों लखनऊ के काम करेंगे लेकिन रिश्ते का प्रभाव वो कभी अपने काम पर नहीं पड़ने देंगे. वहीँ पिता जनार्दन सिंह की बात करें तो उनका कहना है कि हर कोई चाहता है कि उसका बेटा उससे आगे जाए, मेरा बेटा मेरा अधिकारी बना है जब भी सामने पड़ेगा तो सैल्यूट करूंगा. बकौल जनार्दन उनका बेटा उनसे भी कहीं ज्यादा सख्त है. वहीँ अनूप सिंह की मां का कहना है कि बेटा हमारे साथ रहे ये परिवार में सभी चाहते हैं. परिवार में सभी बहुत खुश हैं कि अनूप और उसके पिता अब एक साथ काम करेंगे. अनूप सिंह का परिवार विभूति खण्ड के विक्रांत खण्ड में बने मकान में रहता है. आईपीएस अनूप के परिवार में माता-पिता, पत्नी, बच्ची, दो बहनें और एक भाई है. अनूप से जब उनके पिता और उनके बीच के पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को लेकर बात की गई तो उन्होंने कहा कि उनके और उनके पिता के बीच भवनात्मक रिश्ते आड़े नहीं आते. पुलिस विभाग में जो जिम्मेदारी दोनों को मिली है उसे हम पूरी ईमानदारी से निभाने की कोशिश करते हैं. अनूप सिंह ने आज हाल ही में लखनऊ में चार्ज लिया है और सरकारी आवास के लिए अर्जी भी दी है. साफ है वो निजी आवास से हटकर सरकारी आवास में रहेंगे. हालांकि जब से अनूप को लखनऊ की जिम्मेदारी सौंपी गई उसके बाद से पूरे परिवार को बेसब्री से उनके आने का इंतजार था. बहरहाल राजधानी में एएसपी नार्थ की कमान संभालने के बाद देखना होगा अनूप राजधानी में अपनी क्या छाप छोड़ पाते हैं. एसपी नार्थ के पिता का कहना है कि उनका पुत्र इस मुकाम पर है इस बात का उन्हें गर्व है. चपन की यादें ताज़ा करते हुए कहा कि उनका बेटा बचपन से ही दूसरे बच्चों से अलग इसलिये था क्योंकि जिस उम्र में बच्चे तरह तरह की डिमांड करते है लेकिन उनका बेटा उनसे कोई डिमांड नहीं करता था. आज जब उनका बेटा एएसपी बन गया है तब भी उनको बिल्कुल भी घमंड नहीं है. जिस तरह से पिछले कई दशकों से वह सिपाही की नौकारी ईमानदारी के साथ करते आ रहे हैं वैसे भी आगे करते रहेंगे. उन्होंने कहा कि जिस तरह से दूसरे अधिकारियों के साथ उनका संबंध था वैसे ही उनके बेटे के साथ भी रहेगा. कभी फील्ड में ऐसा नहीं लगेगा कि अनूप उनका बेटा है जिस तरह से दूसरे अधिकारी हैं वैसे ही उनका बेटा भी अधिकारी है. #29 अक्टूबर की न्यूज़
TOP CURRENT AFFAIRS 1. हाल ही किस स्थान पर दशहरा देख रहे लोगों पर ट्रेन चढ़ने के कारण 60 से अधिक लोगों की मौत हो गई? a. किशनगंज b. सीतापुरी c. वेल्लूर d. अमृतसर✅ 2. गोवा से मुंबई के बीच आरंभ किये गये देश के पहले डोमेस्टिक क्रूज़ का क्या नाम है? a. मराठा b. द्रोण c. आंग्रिया✅ d. ग्रासिया 3. अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने किस देश के साथ दशकों पुरानी इंटरमीडिएट-रेंज न्यूक्लियर फोर्सेज (आईएनएफ) संधि समाप्त करने की घोषणा की है? a. ईरान b. रूस✅ c. पाकिस्तान d. जापान 4. निम्नलिखित में से किस संस्था द्वारा हाल ही में जल शोधन प्रणाली ‘ओनीर’ का विकास किया गया है? a. डब्ल्यूएचओ b. सीआईआई c. सीएसआईआर✅ d. जेसीबी 5. हाल ही में किस देश द्वारा बिजली की खपत कम करने के उद्देश्य से कृत्रिम चंद्रमा लॉन्च किये जाने की घोषणा की गई? a. अमेरिका b. इज़राइल c. चीन✅ d. भारत 6. दीपावाली के अवसर पर वायु प्रदूषण को नियंत्रण में रखने के लिये पर्यावरण मंत्रालय ने किस अभियान की शुरुआत की? a. सुरक्षित दिवाली अभियान b. हरित दिवाली, स्वस्थ दिवाली अभियान✅ c. बिना पटाखे दिवाली, हर ओर उजियारा अभियान d. पर्यावरण हितैषी दिवाली अभियान 7. किस राज्य सरकार ने सर्वानंद प्रेमी द्वारा लिखित 'श्रीमद्भागवद गीता' और 'कौशुर रामायण' का उर्दू संस्करण स्कूल-कॉलेजों व सार्वजनिक पुस्तकालयों में रखने का आदेश दिया है? a. बिहार सरकार b. पंजाब सरकार c. कर्नाटक सरकार d. जम्मू-कश्मीर सरकार✅ 8. कैमरून के पॉल बिया ने 71.3 प्रतिशत मतदान के साथ कितनी बार राष्ट्रपति चुनाव जीत लिया है? a. 7वीं✅ b. 8वीं c. 9वीं d. 10वीं 9. किस देश के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 23 अक्टूबर 2018 को चीन और मकाओ को हॉन्ग-कॉन्ग से जोड़ने वाले समुद्र पर बने दुनिया के सबसे लंबे पुल का उद्घाटन किया? a. नेपाल b. चीन✅ c. जापान d. रूस 10. सुप्रीम कोर्ट ने किस मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं को प्रवेश की अनुमति देने के अपने फैसले के खिलाफ दायर पुनर्विचार याचिकाओं पर 13 नवंबर को सुनवाई करेगा? a. सबरीमाला मंदिर✅ b. अयोध्या मंदिर c. वैष्णो देवी मंदिर d. राजारानी मंदिर 11. हाल ही में किस अंतरराष्ट्रीय संस्था द्वारा जारी रिपोर्ट में कहा गया कि निजीकरण मानवाधिकारों के लिए हितकर नहीं है? a. विश्व बैंक b. संयुक्त राष्ट्र✅ c. एशियन विकास बैंक d. यूनेस्को 12. निम्नलिखित में से किस नेता को वर्ष 2018 के सियोल शांति पुरस्कार हेतु चयनित किया गया है? a. डोनाल्ड ट्रम्प b. व्लादिमीर पुतिन c. नरेंद्र मोदी✅ d. शी जिनपिंग 13. हाल ही में किस अवसर पर नारी गरिमा का संदेश देने के लिए भारत में 3000 महिलाओं ने पारंपरिक परिधानों में एक साथ लोक नृत्य किया? a. कुल्लू दशहरा✅ b. उज्जैन पर्व c. गुजरात पर्व d. जयपुर फेस्टिवल 14. केंद्र सरकार ने लोक स्वास्थ्य बीमा योजना आयुष्मान भारत को प्रोत्साहन देने के लिये आशा कार्यकर्ता का निगरानी यात्रा भत्ता 5000 रुपए से बढ़ाकर कितना करने का निर्णय लिया है? a. 10,000 b. 8,000 c. 7,000 d. 6,000✅ 15. सरकार ने भारत और किस देश के बीच फिनटेक पर संयुक्त कार्य समूह (जेडब्ल्यूजी) गठित करने के लिए मंजूरी दे दी है? a. सिंगापुर✅ b. मलेशिया c. दक्षिण कोरिया d. चीन ━━━━━━━━━━━━━━━━━━━━━ 🅙🅞🅘🅝🔜@StudyWithShrikant ━━━━━━━━━━━━━━━━━━━━━ #29 अक्टूबर की न्यूज़
🎤 कोरल रीफ संरक्षण पर अंतर्राष्ट्रीय सम्मलेन का आयोजन भारत के किस केंद्र शासित प्रदेश में किया गया? 🔑 उत्तर – लक्षद्वीप 🕹️ कोरल रीफ संरक्षण पर स्थिति पर अंतर्राष्ट्रीय सम्मलेन का आयोजन लक्षद्वीप के 🕹️ बंगाराम द्वीप पर किया गया, इसका आयोजन 22 से 24 अक्टूबर, 2018 के दौरान किया गया। इस सम्मेलन की थीम “रीफ फॉर लाइफ” थी। इस सम्मेलन का उद्घाटन केन्द्रीय पर्यावरण, वन तथा जलवायु मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने किया। 🕹️ इस सम्मेलन का आयोजन लक्षद्वीप पर्यावरण व वन विभाग द्वारा केन्द्रीय पर्यावरण, वन तथा जयवायु परिवर्तन मंत्रालय, अंतर्राष्ट्रीय प्रकृति संरक्षण संघ, पर्यावरण सूचना प्रणाली (ENVIS) व जूलॉजिकल सर्वे ऑफ़ इंडिया (ZSI) के तकनीकी सहयोग से किया गया था। इस मेगा इवेंट में देश-विदेश से लगभग 150 प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। इस सम्मेलन में अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, कुवैत, इटली, फ्रांस, मालदीव तथा श्रीलंका से प्रवक्ताओं ने तकनीकी पहलुओं पर अपने विचार व्यक्त किये। ⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️ 🎤 द्रूज्बा –III सैन्य अभ्यास का आयोजन किन दो देशों के बीच किया जा रहा है? 🌻उत्तर – पाकिस्तान और रूस 🎙 पाकिस्तान और रूस के बीच संयुक्त द्विपक्षीय सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास “द्रुज्बा III” शुरू हो गया है। इस अभ्यास का आयोजन पाकिस्तान के उत्तर-पश्चिमी पहाड़ी क्षेत्र में किया जायेगा। यह पाकिस्तान और रूस के बीच सैन्य अभ्यास का तीसरा संस्करण है। यह सैन्य अभ्यास 4 नवम्बर तक चलेगा। इस सैन्य अभ्यास का आरम्भ वर्ष 2016 में हुआ था। अक्टूबर, 2016 में पाकिस्तान और रूस के बीच पहले संयुक्त सैन्य अभ्यास अ आयोजन किया गया था, इसका आयोजन पाकिस्तान में किया गया था। वर्ष 2017 में रूस में इस अभ्यास का आयोजन किया गया था। “द्रुज्बा” एक रूसी शब्द है, इसका अर्थ “मित्रता” होता है। 🎤 अंतर्राष्ट्रीय नृत्य उत्सव “उद्धव उत्सव” का आयोजन किस शहर में किया गया? 🌻 उत्तर – ग्वालियर 🌺अंतर्राष्ट्रीय नृत्य उत्सव “उद्धव उत्सव” का आयोजन मध्य प्रदेश के ग्वालियर में 20 से 25 अक्टूबर, 2018 के दौरान किया गया। इसका उद्घाटन भारत में उज्बेकिस्तान के राजदूत फरहोद अर्ज़ेव ने किया। इस स्पर्धा का मुख्य उद्देश्य युवाओं को अपनी प्रतिभा प्रदर्शित करने का अवसर प्रदान करना था। इस इवेंट में बुल्गारिया, तुर्की तथा श्रीलंका जैसे देशों ने नृत्य समूहों ने हिस्सा लिया, जबकि भारत के 25 समुहों ने इस स्पर्धा में हिस्सा लिया। ━━━━━━━━━━━━━━━━━━━━━ 🅙🅞🅘🅝🔜@StudyWithShrikant ━━━━━━━━━━━━━━━━━━━━━ #29 अक्टूबर की न्यूज़
Aaj Tak LIVE TV #29 अक्टूबर की न्यूज़
#29 अक्टूबर की न्यूज़
Call me 9265864755 #29 अक्टूबर की न्यूज़
MP: विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के इस कैंपेन से बीजेपी नाराज मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने एक कैंपेन तैयार किया है. कांग्रेस के इस कैंपेन पर बीजेपी आगबबूला है. मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए तैयार किए गए कांग्रेस के एक कैंपेन पर बीजेपी आगबबूला है. दरअसल कैंपेन का नाम है ''मुझे गुस्सा आता है'' और इन्ही पंक्तियों से फिलहाल बीजेपी गुस्सा है और कांग्रेस के गांधीवादी विचारधारा वाली पार्टी होने पर सवाल खड़े कर रही है. दरअसल इस कैंपेन के वीडियो में जहां किसान का शिवराज सरकार पर गुस्सा दिखाया गया है तो वहीं दूसरी वीडियो में महिला अपराधों के खिलाफ एक महिला का गुस्सा दिखाया गया है और अब कांग्रेस के इन कैंपेन वीडियो पर बीजेपी आपत्ति जताकर कांग्रेस की गांधीवादी विचारधारा वाली पार्टी होने पर सवाल उठा रही है. बीजेपी प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल का कहना है कि गांधीवादी विचारधारा वाले कभी क्रोध और गुस्सा नहीं करते और ये कैंपेन वीडियो कांग्रेस का मजाक उड़ा रहे हैं क्योंकि गांधी जी कभी गुस्से की बात नहीं करते थे. वहीं कांग्रेस इसे मध्य प्रदेश की जनता का सरकार के खिलाफ गुस्से वाला वीडियो बता रही है. कांग्रेस प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी का कहना है कि ये गुस्सा अभी कैंपेन में दिख रहा है और जनता जल्द अपना गुस्सा अपने वोट की ताकत से बीजेपी को दिखाने वाली है. कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में इस बार किसान, महिलाओं के खिलाफ अपराधों और बेरोजगारी-भ्रष्टाचार को मुद्दा बनाते कैंपेन वीडियो गुस्सा दिखाने की कोशिश की है लेकिन जनता इन वीडियो से खुद को जोड़ ना ले इस आशंका से फिलहाल बीजेपी की चिंता ज़रूर बढ़ गयी है. #29 अक्टूबर की न्यूज़
शिंजो आबे को याद आए नेहरू, मोदी से मिलकर कहा- हमेशा भारत का दोस्त रहूंगा मोदी ने कहा कि अपने घर पर गर्मजोशी से स्वागत के लिए प्रधानमंत्री शिन्जो आबे का आभार. मैं इससे काफी सम्मानित महसूस कर रहा हूं. जापान के प्रधानमंत्री ने चॉपस्टिक के जरिये जापानी तरीके से खाना भी सिखाया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को माउंट फूजी के पास एक खूबसूरत रिजॉर्ट में जापान के प्रधानमंत्री शिन्जो आबे के साथ अनौपचारिक बातचीत की. इसके बाद मोदी और आबे औद्योगिक रोबोट बनाने वाली कंपनी 'फानुक कॉरपोरेशन' के कारखाने गए. मोदी 13वें भारत-जापान वार्षिक शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए शनिवार की शाम को यहां पहुंचे. मोदी ने कहा कि दोनों देशों के बीच भागीदारी बुनियादी रूप से बदली है और अब यह एक ‘विशेष रणनीतिक एवं वैश्विक भागीदारी’ के रूप में मजबूत हुई है. रविवार को शुरू हो रहे दो दिन के सम्मेलन में आपसी रिश्तों में हुई प्रगति की समीक्षा की जाएगी और द्विपक्षीय संबंधों के रणनीतिक आयामों को और गहरा करने पर चर्चा होगी. मोदी के साथ शिखर सम्मेलन से पहले आबे ने दिया संदेश जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने रविवार को कहा कि वह ‘आजीवन भारत के मित्र’ रहेंगे. जापान-भारत रणनीतिक साझेदारी को और मजबूत बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ दो दिवसीय शिखर सम्मेलन के पूर्व आबे ने अपने एक संदेश में यह बात कही. उन्होंने ने कहा, 'जापान जब बहुत धनी नहीं था तो प्रधानमंत्री (जवाहरलाल) नेहरू ने हजारों लोगों के सामने जापान के प्रधानमंत्री किशी का परिचय कराते हुए कहा था कि वह उनका सम्मान करते हैं.' आबे ने रविवार को तोक्यो से 110 किलोमीटर पश्चिम में यामानशी में अपने निजी घर पर प्रधानमंत्री मोदी के आगवानी करते हुए याद किया कि 1957 में उनके दादा नाबुसुकु किशी भारत की यात्रा करने वाले पहले जापानी प्रधानमंत्री थे. उसी यात्रा के बाद जापान ने भारत को 1958 में येन (जापानी मुद्रा) में ऋण सहायता देनी शुरू की. वर्ष 2006 में पहली बार प्रधानमंत्री चुने गए आबे एक प्रतिष्ठित राजनीतिक परिवार से आते हैं. आबे ने अपने आलेख में लिखा है, 'अपने दिल में दिल में उस इतिहास को अंकित कर मैंने अपने आप को भारत के साथ जापान के रिश्ते को सींचने में समर्पित कर दिया है.' उन्होंने याद किया कि 2007 में भारत की यात्रा के दौरान उन्हें भारतीय संसद में भाषण देने का सम्मान हासिल हुआ था. आबे ने कहा कि पिछले साल सितंबर में जब वह प्रधानमंत्री मोदी के गृह राज्य गुजरात गए थे तो लोगों ने बेहद गर्मजोशी के साथ उनका स्वागत किया था. लिबरल डेमोक्रैटिक पार्टी के 64 वर्षीय नेता ने अपने पत्र में कहा है, 'अपने दादा की की भारत यात्रा के प्रभाव और उसकी याद करते हुए मैंने शपथ ली है कि मैं आजीवन भारत का मित्र बना रहूंगा.' मोदी की आबे के साथ अनौपचारिक वार्ता, औद्योगिक रोबोट कंपनी के कारखाने गए दौरे के पहले दिन में मोदी के होटल माउंट फूजी पहुंचने पर आबे ने उनका स्वागत किया. मोदी ने ट्वीट किया, ‘आबे से मिलकर काफी खुशी हुई.’ दोनों नेता बाग में साथ साथ घूमे. मोदी ने आबे को कलात्मक दरियां और पत्थर के दो अलंकृत कटोरे और कुछ अन्य उपहार भेंट किए. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, ‘आधुनिक प्रौद्योगिकी में हमारे बीच सहयोग को आगे बढ़ाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिन्जो आबे फानुक कॉरपोरेशन के कारखाने गए. यह दुनिया में औद्योगिक रोबोट की सबसे बड़ी कंपनी है.’ दोनों नेताओं ने औद्योगिक रोबोट के काम करने के तरीकों पर कई चित्रों को देखा. अधिकारियों ने बताया कि मोटर असेंबलिंग कारखाने में दोनों नेताओं ने देखा कि कैसे एक रोबोट ने मात्र 40 सेकेंड में मोटर को असेंबल कर दिया. फानुक जापान और भारत सहित अन्य देशों में स्वचालन और दक्षता के जरिये विनिर्माण में योगदान देती है. आबे ने अपने घर पर मोदी को खिलाया डिनर बाद में शाम को आबे ने यामानशी में कावागुची झील के पास अपने निजी घर पर मोदी के लिए रात्रि भोज आयोजित किया. यह पहला मौका है जबकि आबे ने किसी विदेशी राजनीतिक नेता को यामानशी क्षेत्र के नारुसावा गांव में अपने अवकाशकालीन आवास पर आमंत्रित किया है. मोदी ने ट्वीट किया, ‘अपने घर पर गर्मजोशी से स्वागत के लिए प्रधानमंत्री शिन्जो आबे का आभार. मैं इससे काफी सम्मानित महसूस कर रहा हूं. जापान के प्रधानमंत्री ने चॉपस्टिक के जरिये जापानी तरीके से खाना भी सिखाया.’ पिछले साल सितंबर में मोदी ने अपने गृह राज्य गुजरात में आबे की मेजबानी की थी. रात्रि भोज के बाद दोनों नेता ट्रेन से टोक्यो के लिए रवाना हो गए. यामानशी टोक्यो से करीब 110 किलोमीटर की दूरी पर है. सोमवार को दोनों नेता टोक्यो में औपचारिक शिखर बैठक करेंगे. उनकी इस बैठक के एजेंडा में द्विपक्षीय सुरक्षा और आर्थिक सहयोग को मजबूत करना शामिल है. नयी दिल्ली से जापान यात्रा के लिए रवाना होने से पहले मोदी ने भारत और जापान को ‘आपसी लाभ वाला गठजोड़’ बताया था. उन्होंने कहा था कि आर्थिक और प्रौद्योगिकी की दृष्टि से आधुनिकीकरण में भारत के लिए जापान सबसे भरोसेमंद भागीदार है. यह मोदी की आबे के साथ 12वीं बैठक है. प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी की आबे के साथ सबसे पहली बैठक सितंबर, 2014 में हुई थी. समझा जाता है कि शिखर बैठक के दौरान मोदी और आबे के बीच रक्षा और क्षेत्रीय सुरक्षा सहित विभिन्न मुद्दों पर बातचीत होगी. कहा जा रहा है कि मोदी की इस यात्रा से विभिन्न क्षेत्रों में दोनों देशों के संबंधों को मजबूत किया जा सकेगा. भारत उम्मीद कर रहा है कि मोदी की महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत योजना और जापान के कार्यक्रम एशिया हेल्थ एंड वेलबीइंग इनीशिएटिव के बीच कुछ समानताएं देखी जा सकती हैं. मोदी ने कहा कहा कि मुंबई-अहमदाबाद द्रुत गति का रेल ओर समर्पित ढुलाई गलियारा हमारे आर्थिक संबंधों की मजबूती को दर्शाता है. उन्होंने कहा कि हमारी राष्ट्रीय पहलों मसलन ‘मेक इन इंडिया’, स्किल इंडिया, डिजिटल इंडिया और स्टार्ट अप इंडिया में भी जापान बढ़चढ़कर जुड़ा है. जापानी निवेशकों को भारत के आर्थिक भविष्य में भरोसा है. मोदी टोक्यो में भारतीय समुदाय को संबोधित करेंगे और विभिन्न कारोबारी कार्यक्रमों तथा व्यापार मंच में भी हिस्सा लेंगे. #29 अक्टूबर की न्यूज़
MP: 'युवा टाउनहॉल' से युवाओं को रिझा पाएंगे शिवराज? मध्य प्रदेश में युवा वोटरों को रिझाने और सभी 230 विधानसभा सीटों पर पार्टी से जोड़ने के लिए बीजेपी ने रविवार को 'युवा टाउनहॉल' का आयोजित किया. भोपाल के रविंद्र भवन में इसका आयोजन किया गया. मध्य प्रदेश में चौथी बार सत्ता में आने की जुगत लगा रही बीजेपी ने युवाओं को लुभाने के लिए टाउनहॉल का आयोजन किया है. भोपाल के रविंद्र भवन में आयोजित हुए इस कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की सभी 230 विधानसभा सीटों के नए वोटरों से संवाद किया. कार्यक्रम में शिवराज ने उनके युवा काल की यादें ताज़ा की तो वहीं युवाओं को कई तरह की सीख भी दी. युवा टाउनहॉल आयोजन के जरिए बीजेपी का लक्ष्य 10 लाख युवाओं को सीधे पार्टी से जोड़ने का है और इसलिए कार्यक्रम के बाद सीएम के साथ उनकी सेल्फी भी करवाई गई जिसे 'सेल्फी विद मामा' का नाम दिया गया. युवा टाउनहॉल कार्यक्रम में युवा मतदाताओं के अलावा बड़ी संख्या में स्कूल ड्रेस में छात्र छात्राओं को लाया गया जिसे लेकर कांग्रेस ने आपत्ति जताई है. कांग्रेस ने इसे आचार संहिता का उल्लंघन बताते हुए चुनाव आयोग से शिकायत करने की बात कही है. दरअसल चुनाव में युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होगी. यही वजह है कि बीजेपी ने इस आयोजन के जरिए युवाओं को जोड़ने की कोशिश की है. #29 अक्टूबर की न्यूज़
शीर्ष अदालत ने 27 सितंबर को 1994 के अपने उस फैसले पर पुनर्विचार के मुद्दे को पांच जजों वाली बेंच को सौंपने से इनकार कर दिया था, जिसमें कहा गया था कि ‘मस्जिद इस्लाम का अनिवार्य अंग नहीं’ है. सुप्रीम कोर्ट में सोमवार से अयोध्या राम मंदिर-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद मामले की सुनवाई होगी. राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि को तीन भागों में बांटने वाले 2010 के इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ कई याचिकाएं शीर्ष अदालत में दायर की गई हैं. चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (सीजेआई) रंजन गोगोई और जस्टिस संजय किशन कौल व जस्टिस के एम जोसफ की बेंच इस मामले में दायर अपीलों पर सुनवाई करेगी. #29 अक्टूबर की न्यूज़