🛐ईद की नमाज़
*क्या बकरा ईद पर कुर्बानी देने का आदेश खुदा का है, या खुदा के नाम पर बेजुबान जानवरों की कुर्बानी देकर समस्त मुसलमान दोजख में जाने की तैयारी कर रहे हैं ?* हो सकता है मेरी बात मुसलमान भाईयो को बुरी लगे लेकिन मैं अपनी बात कहूंगा। क्या बेजुबान जानवरों को मारकर खाना खुदा का आदेश है ? अगर हां तो पाक कुरआन शरीफ़ की आयत से दलील पैश करो। पाक कुरान शरीफ़ में कहीं भी जीवों को मारने का आदेश नहीं है। नबी मुहम्मद साहब ने इबादत के लिए रोजा, बंग और नमाज बताया है, कहीं भी जीवों को मारने के लिए नहीं कहा। कुरआन शरीफ़ में कुर्बानी देने के लिए बोला गया है लेकिन किसी बेजुबान की नहीं, अल्लाह की राह पर चलने के लिए अपनी बुराइयों की कुर्बानी देने की बात कही है। फिर क्यों इन मुल्ला, काजियो ने, नेक मुसलमानो को आज तक नहीं बताया कि मांस खाने का आदेश खुदा का नहीं बल्कि शैतान का है? अगर सभी जीव उस मालिक (पिता)के बच्चे है तो क्या कोई पिता अपने बच्चों को एक दूसरे को मारने और खाने का आदेश दे सकता है। हम सब जानते है कि हम जन्नत से आए थे और ये जहान शैतान का हैं और वापस जन्नत में जाने के लिए अल्लाह कबीर की सच्ची इबादत करनी पड़ेगी। पाक कुरआन शरीफ़ भी यही कहती हैं कि अगर खुदा की सच्ची इबादत करनी है तो किसी बाखबर/इल्मवाले की तलाश करनी होगी। कबीर, गला काटै कलमा भरै, किया करै हलाल। साहिब (अल्लाह) लेखा मांगसी, तब होगा कौन हवाल।।" परमात्मा कबीर जी ने कलमा पढ़कर जीवों की हत्या करने वाले मुल्ला काजियों को लताड़ते हुए कहा है कि जिन निर्दोष जीवों की हत्या तुम कर रहे हो इन सभी पापों का लेखा जोखा अल्लाह तुमसे जरूर लेंगे तब तुम्हे कोई बचाने वाला नही होगा। क्यों हमारे मुल्ला काजियो ने हमें गुमराह किया? क्यों नहीं बताया कि मांस खाने का आदेश खुदा का नहीं है? क्यों मुस्लिम भाईयों को खुदा के नाम पर बेजुबान जानवरों को मारकर त्यौहार मनवाया जाता रहा है? अल्लाह के रसूल नबी मोहमद साहेब ने अपनी ज़िंदगी में कभी मांस नहीं खाया फिर हमसे ये गुनाह क्यों करवाया जा रहा है और कौन करवा रहा है? अगर पाक कुरआन शरीफ की आयतों को पढ़कर कुर्बानी देने से बकरा जन्नत में जा सकता है तो क्यों नहीं हम अपने परिवार वालों को बकरीद के दिन कुर्बान कर दे, सीधा जन्नत नसीब होगी। सभी मुसलमान भाईयो से दरखास्त है कि इस बकरीद के दिन सभी कुरीतियों की कुर्बानी देकर, कुरआन शरीफ में बताए अनुसार बाखबर की तलाश करो और उसके बताए अनुसार खुदा की इबादत करो तो जन्नत हासिल होगी। कुराने पाक के अनुसार बाखबर(इल्मवाले) को जानने के लिए देखे-- "ईश्वर टीवी" प्रतिदिन रात्रि 8:30 से 9:30
#

🛐ईद की नमाज़

🛐ईद की नमाज़ - & जीव हत्या महापाप अल्लाह के नाम पर बकरीद के दिन लाखों जीवों की हत्या करना महामूर्खता है , महापाप है । FREE ज्ञान गगा अधिक जानकारी के लिए पवित्र पुस्तक ज्ञान गंगा निःशुल्क प्राप्त करें । अपना नाम , पूरा पता , मोबाइल नंबर हमें Whatsapp करें + 917496801823 y @ SAINTRAMPALJIM O SA TRAMPALUM SANT RAMPAL JI AS E SUPREMEGOD . ORG mahanimary SPIRITUAL LEADER SAINT RAMPAL JI MAHARAJ - ShareChat
119 ने देखा
3 महीने पहले
#

🛐ईद की नमाज़

183 ने देखा
3 महीने पहले
#

🛐ईद की नमाज़

398 ने देखा
3 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post