आज़ाद हिन्द फ़ौज दिवस
#आजाद हिन्द फौज की 75वीं वर्षगाँठ पर दो शब्द । # 21 Oct.2018 🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳 *जाने कितने झुले थे फाँसी पर कितनों ने गोली खाई थी।क्यों झुठ बोलते हो साहब कि चरखे से आजादी आई थी। चरखा हरदम खामोश रहा और अंत देश को बांट दिया , लाखों बेघर , लाखों मर गए , जब गाँधी ने बंदरबाँट किया। जिन्ना के हिस्से पाक गया,नेहरू को हिन्दुस्तान मिला ।जो जान लुटा गए भारत पर , उन्हे ढंग का न सम्मान मिला ।इन्ही सियासी लोगों ने शेखर को भी आतंकी बतलाया था ।रोया अलफ्रेड पार्क था उस दिन, एक एक पत्ता थर्राया था। जो देश के लिए जिए मरे और फाँसी के फंदे पर झूल गए। हमें कजरे गजरे तो याद रहे, पर अमर पुरोधा हम भूल गए* । *जय हिन्द जय भारत* 🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳 *आपका अपना* *लोकेन्द्र सिंह राजावत* *ठी बडागाँव*
#

आज़ाद हिन्द फ़ौज दिवस

आज़ाद हिन्द फ़ौज दिवस - 21 October 2018 ( Happy adapendence ( Day - ShareChat
416 ने देखा
1 साल पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post