📰उत्तर प्रदेश की ख़बरें
अयोध्या फैसले पर पुनर्विचार याचिका के जवाब की तैयारी में जुटा हिंदू पक्ष, यह बनी रणनीति वैसे तो हिंदू पक्ष को पूरा भरोसा है कि अयोध्या मुद्दे पर मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की तरफ से सर्वोच्च न्यायालय में दायर की जाने वाली संभावित पुनर्विचार याचिका पर कुछ भी नया नहीं होगा। बावजूद इसके हिंदू पक्ष की तरफ से इसके जवाब की तैयारी शुरू कर दी गई हैं।  राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और विश्व हिंदू परिषद के बीच भी इस मुद्दे पर गुफ्तगू के दौर चल रहे हैं। वकीलों से भी सलाहृ-मशविरा हो रहा है। विहिप के अलावा हिंदू पक्ष की तरफ से इस मामले में पैरोकार अन्य संगठनों ने समन्वय बनाकर पुनर्विचार याचिका के मुद्दे पर रणनीति का तानाबाना बुनना शुरू कर दिया गया है। पिछले तीन दिनों से विहिप के उपाध्यक्ष चपंत राय वाराणसी में थे। उनकी वहां प्रवास पर आए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश जोशी भैया जी और सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल के साथ इस मुद्दे पर कई दौर की बातचीत हुई। इस  बातचीत में एक दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल हुए।
#

📰उत्तर प्रदेश की ख़बरें

📰उत्तर प्रदेश की ख़बरें - JUGAL SOUT - ShareChat
20.9k ने देखा
4 महीने पहले
#

📰उत्तर प्रदेश की ख़बरें

aaj ki khabar
#📰उत्तर प्रदेश की ख़बरें राम मंदिर के लिए भक्त दान करेंगे 51 हजार ईंटें, खास मिट्टी से की जा रही हैं तैयार जिस जगह पर राम नाम की ईंटें बन रही हैं, वहां जूते-चप्पल पहनकर जाना मना है. भट्टे के मालिक संदीप वर्मा के मुताबिक उनके मन में इच्छा शक्ति आई कि वह भगवान राम के मंदिर के गर्भ ग्रह की नींव भरने के लिए 51 हजार ईंटें रामलला को दान करेंगे. अयोध्या. अयोध्या भूमि विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद अब भक्त भगवान राम को उनके भव्य मंदिर में देखना चाहते हैं. ऐसा ही एक भक्त अयोध्या में भी मिला जिसने राम मंदिर के फैसले के साथ ही 51 हजार भगवान राम नाम की ईंटें बनवाना शुरू कर दिया है. लगभग 4 हजार से ज्यादा ईंटें बनकर तैयार हैं. राम मंदिर निर्माण की तिथि घोषित होते ही वह 51 हजार अवल दर्जे की ईंटें भगवान राम लला के गर्भ ग्रह की नींव भरने के लिए राम जन्म भूमि में दान करेंगे. मटियारी मिट्टी का प्रयोग जिस जगह पर राम नाम की ईंटें बन रही हैं उस जगह पर जूते-चप्पल पहनकर जाना वर्जित है. भट्टे के मालिक संदीप वर्मा के मुताबिक उनके मन में इच्छा शक्ति आई कि वह भगवान राम के मंदिर के गर्भ ग्रह की नींव भरने के लिए 51 हजार ईंटें रामलला को दान करेंगे. वर्मा ने बताया कि भक्त और भगवान का ताल्लुक सदियों से चला आ रहा है. यह विशेष तरह की मटियारी मिट्टी से बनी ईंटें होंगी. ईंट में शुद्धता का भी पूरा ध्यान रखा गया है. ईंटें पाथने के लिए 16 मजदूर लगे हैं जो रात दिन मेहनत करके 51 हजार ईंटों को तैयार करेंगे.
196 ने देखा
4 महीने पहले
#

📰उत्तर प्रदेश की ख़बरें

232 ने देखा
4 महीने पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post