💖मेरी प्यारी पत्नी
समय और वक़्त बदलता रहता है लेकिन यादे कभी नहीं बदलती इन्ही यादों में से एक है । !!!!!!!!!शादी की सालगिरह !!!!!!!!!! शादी की सालगिरह पति और पत्नी दोनों के लिए बहुत ही ख़ास पल होता है| यह दिन साल में सिर्फ एक बार ही आता है| यह खास दिन पर पति और पत्नी दोनों ही अपनी शादी के पल को याद करते है और सोचकर मुस्कुराते है| शादी के समय सदैव साथ रहने के वचन को न तोडना यह ही इस दिन की मिसाल है| यह दिन हम दोनों पति-पत्नी के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण दिन होता है क्योंकि इसी दिन हम दोनों पति-पत्नी बने | आज ही के दिन हम दोनों ने अपने वैवाहिक जीवन में कदम रखा था और सात फेरे लेकर एक साथ चलने की कसम खायी थी। शादी का रिश्ता इस दुनिया के कुछ पवित्र रिश्तों मे से एक होता है। ये जीवन को स्थाई बनाती है और इसी पढ़ाव के बाद मनुष्य अपनी ज़िम्मेदारियों को उठाता है। शादी होना किसी के भी ज़िन्दगी का एक बड़ा अवसर होता है। आप शादी का फैसला लेने के साथ साथ अपने हमसफ़र को भी चुनते हैं जिसके साथ अपनी ज़िन्दगी ख़ुशी ख़ुशी बितानी रहती है। जैसे जैसे साल शादी के साल बीतते रहते हैं, वैसे वैसे ये रिश्ता और भी मज़बूत होता चला जाता है। समय के साथ साथ अपने जीवनसाथी को हम इतनी भली-भाँती जानने लगते हैं कि उनके बिना अपनी ज़िन्दगी की कल्पना करना भी मुश्किल हो जाता है। शादी की सालगिरह अथवा वर्षगांठ wedding anniversary जीवन में ख़ुशी एवं उत्साह के पलों में से एक हैं. पति पत्नी के वैवाहिक जीवन के 5,10,15,20,25, 50 यहाँ तक की पूरा जीवन साथ ही व्यतीत हो जाता हैं. 17 वर्ष पहले आज के दिन ही हम एक हुए थे....कितना लम्बा सफ़र तय कर लिया, याद ही नहीं। लगता है कल की ही तो बात थी........ अहसास कभी उम्र नहीं पाते , कितनी सच्ची बात है ये। जीवन की ऊंची-नीची डगर पर चलते हुए कब एक अजनबी इतना अपना हो जाता है पता ही नहीं चलता......... अपनी जीवनसाथी को मन की कुछ उद्गार समर्पित करता हूँ !!!!!!!!! कुछ लड़ते कुछ झगड़ते, कुछ पल बीते प्यार करते। कुछ रूठते कुछ मनते, कुछ पल बीते शरारत करते।। इन पलों ने रूप लिया, इक खूबसूरत हकीकत का। जब आपकी जिंदगी में, आगमन हुआ पूजा का।। खुदा से दुआ करे हम, और दिल से आशार्वाद दें। आप दोनों का साथ हमेशा, ता-उम्र यूहीं बरकरार रहे।। हमारी ओर से यही तोहफा रहा, शादी की 17वीं सालगिरह पर। आपके रिश्ते को बयाँ किया, चंद लफ्जों में समेट कर।। #💖मेरी प्यारी पत्नी #💑 पति ❤पत्नि
#

💖मेरी प्यारी पत्नी

💖मेरी प्यारी पत्नी - ShareChat
136 ने देखा
1 दिन पहले
शादी की बीसवीं वर्षगांठ की पूर्वसंध्या पर पति-पत्नी साथ में बैठे चाय की चुस्कियां ले रहे थे। संसार की दृष्टि में वो एक आदर्श युगल था। प्रेम भी बहुत था दोनों में लेकिन कुछ समय से ऐसा प्रतीत हो रहा था कि संबंधों पर समय की धूल जम रही है। शिकायतें धीरे-धीरे बढ़ रही थीं। बातें करते-करते अचानक पत्नी ने एक प्रस्ताव रखा कि मुझे तुमसे बहुत कुछ कहना होता है लेकिन हमारे पास समय ही नहीं होता एक-दूसरे के लिए। इसलिए मैं दो डायरियाँ ले आती हूँ और हमारी जो भी शिकायत हो हम पूरा साल अपनी-अपनी डायरी में लिखेंगे। अगले साल इसी दिन हम एक-दूसरे की डायरी पढ़ेंगे ताकि हमें पता चल सके कि हममें कौन सी कमियां हैं जिससे कि उसका पुनरावर्तन ना हो सके। पति भी सहमत हो गया कि विचार तो अच्छा है। डायरियाँ आ गईं और देखते ही देखते साल बीत गया। अगले साल फिर विवाह की वर्षगांठ की पूर्वसंध्या पर दोनों साथ बैठे। एक-दूसरे की डायरियाँ लीं। पहले आप, पहले आप की मनुहार हुई। आखिर में महिला प्रथम की परिपाटी के आधार पर पत्नी की लिखी डायरी पति ने पढ़नी शुरू की। पहला पन्ना...... दूसरा पन्ना........ तीसरा पन्ना ..... आज शादी की वर्षगांठ पर मुझे ढंग का तोहफा नहीं दिया। .......आज होटल में खाना खिलाने का वादा करके भी नहीं ले गए। .......आज मेरे फेवरेट हीरो की पिक्चर दिखाने के लिए कहा तो जवाब मिला बहुत थक गया हूँ ........ आज मेरे मायके वाले आए तो उनसे ढंग से बात नहीं की .......... आज बरसों बाद मेरे लिए साड़ी लाए भी तो पुराने डिजाइन की ऐसी अनेक रोज़ की छोटी-छोटी फरियादें लिखी हुई थीं। पढ़कर पति की आँखों में आँसू आ गए। पूरा पढ़कर पति ने कहा कि मुझे पता ही नहीं था मेरी गल्तियों का। मैं ध्यान रखूँगा कि आगे से इनकी पुनरावृत्ति ना हो। अब पत्नी ने पति की डायरी खोली पहला पन्ना……… कोरा दूसरा पन्ना……… कोरा तीसरा पन्ना ……… कोरा अब दो-चार पन्ने साथ में पलटे वो भी कोरे फिर 50-100 पन्ने साथ में पलटे तो वो भी कोरे पत्नी ने कहा कि मुझे पता था कि तुम मेरी इतनी सी इच्छा भी पूरी नहीं कर सकोगे। मैंने पूरा साल इतनी मेहनत से तुम्हारी सारी कमियां लिखीं ताकि तुम उन्हें सुधार सको। और तुमसे इतना भी नहीं हुआ। पति मुस्कुराया और कहा मैंने सब कुछ अंतिम पृष्ठ पर लिख दिया है। पत्नी ने उत्सुकता से अंतिम पृष्ठ खोला। उसमें लिखा था मैं तुम्हारे मुँह पर तुम्हारी जितनी भी शिकायत कर लूँ लेकिन तुमने जो मेरे और मेरे परिवार के लिए त्याग किए हैं और इतने वर्षों में जो असीमित प्रेम दिया है उसके सामने मैं इस डायरी में लिख सकूँ ऐसी कोई कमी मुझे तुममें दिखाई ही नहीं दी। ऐसा नहीं है कि तुममें कोई कमी नहीं है लेकिन तुम्हारा प्रेम, तुम्हारा समर्पण, तुम्हारा त्याग उन सब कमियों से ऊपर है। मेरी अनगिनत अक्षम्य भूलों के बाद भी तुमने जीवन के प्रत्येक चरण में छाया बनकर मेरा साथ निभाया है। अब अपनी ही छाया में कोई दोष कैसे दिखाई दे मुझे। अब रोने की बारी पत्नी की थी। उसने पति के हाथ से अपनी डायरी लेकर दोनों डायरियाँ अग्नि में स्वाहा कर दीं और साथ में सारे गिले-शिकवे भी। फिर से उनका जीवन एक नवपरिणीत युगल की भाँति प्रेम से महक उठा। दोस्तो, ये एक काल्पनिक कहानी है। पति की जगह पत्नी भी हो सकती है और पत्नी की जगह पति भी। सीखना केवल ये है कि जब जवानी का सूर्य अस्ताचल की ओर प्रयाण शुरू कर दे तब हम एक-दूसरे की कमियां या गल्तियां ढूँढने की बजाए अगर ये याद करें हमारे साथी ने हमारे लिए कितना त्याग किया है, उसने हमें कितना प्रेम दिया है, कैसे पग-पग पर हमारा साथ दिया है तो निश्चित ही जीवन में प्रेम फिर से पल्लवित हो जाएगा। बस थोड़ा सा सोचने की देर है ………… #💖मेरी प्यारी पत्नी #💑 पति ❤पत्नि
#

💖मेरी प्यारी पत्नी

💖मेरी प्यारी पत्नी - 大崎美学 - ShareChat
125 ने देखा
1 दिन पहले
आज हमारी शादी की दसवीं वर्षगाँठ है, कुछ पंक्तिया जो मैंने कही पढ़ी थी आज वो आप सभी से शेयर कर रहा हु ... अंत में हम दोनों ही होंगे !!!! भले ही झगड़े, गुस्सा करे, एक दूसरे पर टूट पड़े, एक दूसरे पर दादागिरी करने के लिए अंत में हम दोनों ही होंगे !💏 . जो कहना है, वह कह ले, जो करना है , वह कर ले एक दूसरे के चश्मे और लकड़ी ढूंढने के लिए अंत में हम दोनों ही होंगे ।💑 . में रूठूँ तो तुम मना लेना, तुम रूठो तो में मना लूँगा, एक दूसरे को लाड लड़ाने के लिए अंत में हम ही होंगे ।👨👩 . आँखे जब धुंधला जायेगी, याददास्त जब कमजोर हो जायेगी, तब एक दूसरे को, एक दूसरे में ढूंढने के लिए अंत में हम दोनों ही होंगे ।💑 . घुटने जब दुखने लगेंगे, कमर भी जब झुकना बंद हो जायेगी, तब एक दूसरे के पाँव के नाख़ून काटने के लिए अंत में हम दोनों ही होंगे ।💞 . मेरी हेल्थ रिपोर्ट एक दम नार्मल है, में तो बिल्कुल ठीक हूँ, ऐसा कह कर, एक दूसरे को बहकाने के लिए अंत में हम दोनों ही होंगे ।💖💖 . साथ जब छूट जाएगा, विदाई की घड़ी जब आ जायेगी, तब एक दूसरे को माफ़ करने के लिए अंत में हम दोनों ही होंगे ।👴👵 अंत में हम दोनों ही होंगे ।👵👴 . पति पत्नी के पवित्र बंधन पर लाखो joke बनते है, किन्तु सार तो यही है। #💖मेरी प्यारी पत्नी #💑 पति ❤पत्नि
#

💖मेरी प्यारी पत्नी

💖मेरी प्यारी पत्नी - ShareChat
123 ने देखा
1 दिन पहले
शादी की सालगिरह आज, उठा लेखनी कुछ ऐसा काम कर रहा हूँ, कुछ छन्द, हे जीवनसंगिनी ! तेरे नाम कर रहा हूँ । ऋतुओं में सबसे ऊपर ऋतुराज हो तुम, कल और आज में, मेरा आज हो तुम। पल-पल मेरा कितना ख्याल रखती हो, संग-संग मात-पिता और बेटों की संभाल करती हो। लौट कर ना आऊं तो करती हो मेरा इंतज़ार, ज़रा सी देर लगे तो, हाय ! वो आंसुओं की बौछार । तीज-त्यौहार-रस्म और सारे व्रत निभाती हो, सब रिश्ते-नातों में, सुख-दुःख की तुम सच्ची साथी हो। कवि ‘मुकेश’ लिख रहा हूँ ‘दीवाना’ खुद को, वाह! क्या शौहर पाया है, ये कहेगा जमाना तुझको #💐 सालगिरह❤ #👌 अच्छी सोच👍 #🌞 Good Morning🌞 #💖मेरी प्यारी पत्नी #💑 पति ❤पत्नि
#

💐 सालगिरह❤

💐 सालगिरह❤ - ShareChat
572 ने देखा
1 दिन पहले
अन्य एप्स पर शेयर करें
Facebook
WhatsApp
लिंक कॉपी करें
डिलीट करें
Embed
मैं इस पोस्ट का विरोध करता हूँ, क्योंकि ये पोस्ट...
Embed Post