🚫 लॉकडाउन 3.0: 12वां दिन

🚫 लॉकडाउन 3.0: 12वां दिन

302
182 पोस्ट
205.4K जण देख्या
🚫 लॉकडाउन 3.0: 12वां दिन
कोविड-19 संकट से उबरने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज की घोषणा की थी। वित्त मंत्री  निर्मला सीतारमण ने बुधवार को इस पैकेज के बारे में विस्तार से जानकारी-  15 हजार की सैलरी वालों को 3 महीने की सरकार मदद मिलेगी। ईपीएफ का 24% सरकार अगले तीन माह तक देगी। सरकार के इस कदम से 3 लाख संस्थानों के 72 लाख कर्मचारियों को फायदा होगा। ईपीएफ अंशदन कम करने से कर्मचारियों के खाते में पैसे ज्यादा पहुंचेंगे। पैसों की कमी से जूझ रहे NBFC को ऋण के लिए सरकार गारंटर बनेगी। गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों की मदद की जाएगी। बिजली कंपनियों को 90 हजार करोड़ का फंड। 31 मार्च 2021 तक टीडीएस कटौती में 25% की राहत। टीडीएस में कटौती से लोगों के पास 50 हजार करोड़ रुपये आएंगे। 2019-20 के लिए आईटीआर भरने की आखिरी तारीख 30 सितंबर तक बढ़ाई गई। MSME सेक्टर को मिले आर्थिक पैकेज की बड़ी बातें:  MSME सेक्टर को मूलधन नहीं चुकाना होगा। 100 करोड़ टर्नओवर वाले उद्योगों को फायदा। बिना गारंटी के MSME सेक्टर को लोन मिलेगा। 2 लाख छोटे कुटीर उद्योगों को इसका लाभ मिलेगा। फंड की कमी से जूझ रहे MSME के लिए 50 हजार करोड़ रुपये। चार वर्ष के लिए मिलेगा लोन, 12 महीने बाद चुकाना होगा। 1 से 5 करोड़ तक टर्न ओवर वाले सूक्ष्म उद्योग। 200 करोड़ तक कोई सरकरी टेंडर ग्लोबल नहीं होगा, MSME से खरीद करेंगे।वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश के सामने विजन रखा है।  समाज के हर वर्ग से राय लेकर राहत पैकेज बनाया। देश में मास्क और पीपीई किट का उत्पादन तेजी से बढ़ा है। आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए यह पैकेज लाया गया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, "पीएम का लक्ष्य लोकल ब्रांड को ग्लोबल पहचान दिलाना है। आत्मनिर्भर भारत का मतलब यह नहीं कि दुनिया से अलग हो जाएं। पीएम मोदी के आत्मनिर्भर भारत की सोच से देश में नई ऊर्जा का संचार हुआ है। आम बजट के बाद देश को कोरोना का बड़ा संकट झेलना पड़ा। 41 करोड़ जनधन खाते में भेजे। जिनके पास कार्ड नहीं, उन्हें अनाज दिया। #🚫 लॉकडाउन 3.0: 12वां दिन
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण प्रेस कॉन्फ्रेंस कर 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज से जुड़ी जानकारी दे रही हैं। दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना संकट के बीच अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के लिए कल 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान किया है। पीएम मोदी ने साफ कहा है कि 20 लाख करोड़ रुपये के इस पैकेज के जरिए गरीबों और कारोबारियों की मदद की जाएगी। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण बता रही हैं कि किस सेक्टर और किस कारोबार को क्या मिल रहा है। #🚫 लॉकडाउन 3.0: 12वां दिन
लॉकडाउन पार्ट-3 के बाद क्या होगा, इस पर आज संकेत मिल सकते हैं।  कुछ देर बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तमाम राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे। बैठक में सभी सीएम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये अपनी राय रखेंगे।  मुख्यमंत्रियों का फीडबैक लॉकडाउन के भविष्य में काफी अहम रहेगा।  बैठक दो सत्र में होगी।  पहला सत्र 3 बजे से शाम साढ़े पांच बजे तक चलेगा।  दूसरा सत्र शाम 6 बजे से शुरू होगा और बैठक का निष्कर्ष निकलने तक बैठक जारी रहेगी।  इस बैठक पर पूरे देश की नजर है।  आज की बैठक में इन मुद्दों पर खास चर्चा हो सकती है- 1. 17 मई के बाद लॉकडाउन को बढ़ाया जाए या नहीं।  2. इकोनॉमी को कैसे धीरे-धीरे पटरी पर लाया जाये। 3. लॉकडाउन के दौरान मिले छूट का क्या असर हो रहा है। 4. आर्थिक गतिविधियों को और कैसे ज्यादा से ज्यादा बढ़ाया जाए। 5. मजदूरों की घर वापसी को आसान कैसे बनाया जाएं। 6. संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए कैसे और सख्ती बढ़ाई जाए। 7. कोरोना से जुड़े मेडिकल सुविधाओं के अपडेट पर भी चर्चा। 8. आर्थिक मोर्चे पर राहत पैकेज को लेकर भी चर्चा होगी। #🚫 लॉकडाउन 3.0: 12वां दिन
#🏘 म्हारो राजस्थान🙏 #🚫 लॉकडाउन 3.0: 12वां दिन #🌻 सकारात्मक सोच
#🚫 लॉकडाउन 3.0: 12वां दिन
#लेटेस्ट न्यूज #🚫 लॉकडाउन 3.0: 12वां दिन
गृह मंत्रालय के मुताबिक, रेड जोन में कई तरह के प्रतिबंध होंगे। यहां साइकिल रिक्शा, ऑटो रिक्शा, टैक्सी और कैब सेवा नहीं उपलब्ध होगी। यहां एक जिले से दूसरे जिले के बीच बस सेवा भी बंद रहेगी. स्पा, सैलून और नाई की दुकाने नहीं खुलेंगी। रेड जोन में क्या खुलेगा- रेड जोन में बड़ी संख्या में अन्य गतिविधियों की अनुमति होगी। ग्रामीण क्षेत्रों में सभी औद्योगिक और निर्माण गतिविधियां, जिनमें मनरेगा कार्य शामिल है। कृषि आपूर्ति श्रृंखला में सभी कृषि गतिविधियों, जैसे, बुवाई, कटाई, खरीद और विपणन संचालन की अनुमति है। वित्तीय क्षेत्र का एक बड़ा हिस्सा खुला रहता है, जिसमें बैंक, गैर-बैंकिंग वित्त कंपनियां (एनबीएफसी), बीमा और पूंजी बाजार की गतिविधियां, और सहकारी समितियां शामिल हैं। #🚫 लॉकडाउन 3.0: 12वां दिन
ऑरेंज जोन में टैक्सियों और कैब एग्रीगेटरों को केवल 1 ड्राइवर और 2 यात्रियों के साथ अनुमति दी जाएगी। ऑरेंज ज़ोन में व्यक्तियों और वाहनों के अंतर-जिला आवागमन को केवल कुछ गतिविधियों के लिए अनुमति दी जाएगी। चौपहिया वाहनों में ड्राइवर के अलावा अधिकतम 2 यात्री होंगे। #🚫 लॉकडाउन 3.0: 12वां दिन
ग्रीन जोन में सभी बड़ी आर्थिक गतिविधियों की छूट दे दी गई है। दफ्तर और फैक्ट्रियों को शर्तों के साथ शुरू करने की इजाजत दी गई है। उदाहरण के लिए इन दफ्तरों और फैक्ट्रियों में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा खयाल रखना होगा। इसके अलावा कार्यस्थल को समय- समय पर सैनेटाइज करना होगा। ये राहत सिर्फ ग्रीन जोन के इलाकों के लिए है। #🚫 लॉकडाउन 3.0: 12वां दिन
गृहमंत्रालय की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि लॉकडाउन से कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में देश को काफी लाभ हुआ है। लॉकडाउन को 4 मई से अगले 2 सप्ताह तक बढ़ाने की घोषणा की जाती है। रेड, ग्रीन और ऑरेन्ज जोन के लिए अलग-अलग गाइडलाइंस तैयार की गई हैं। ग्रीन और ऑरेन्ज जोन में काफी छूट भी दी गई है। #🚫 लॉकडाउन 3.0: 12वां दिन
कुछ गतिविधियां पूरे भारत में सभी जोन में बंद रहेंगी जिसमें हवाई मार्ग, रेल, मेट्रो और सड़क मार्ग द्वारा अंतरराज्यीय आवागमन सहित स्कूलों, कॉलेजों, और अन्य शैक्षिक और प्रशिक्षण / कोचिंग संस्थानों का संचालन शामिल है। -17 मई तक ट्रेन, हवाई, मेट्रो सेवा बंद रहेगी। -  सभी शिक्षण संस्थान 17 मई तक बंद रहेंगे ।- मॉल, सिनेमा हॉल, स्पोर्ट्स क्लब भी बंद रहेंगे।- स्कूल, कॉलेज, संस्थानों, गेस्ट हाउस, होटल, रेस्तरां।- बड़ी सभा का स्थान, जैसे कि सिनेमा हॉल, मॉल, जिम।- खेल परिसर, सामाजिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक और सभी प्रकार की सभा।- धार्मिक स्थान/पूजा स्थल जनता के लिए बंद रहेंगे। #🚫 लॉकडाउन 3.0: 12वां दिन