🙏 અન્નપૂર્ણા જ્યંતી
#

🙏 અન્નપૂર્ણા જ્યંતી

22 એ જોયું
2 મહિના પહેલા
#

🙏 અન્નપૂર્ણા જ્યંતી

🙏माँ अन्नपूर्णा जयंती-12 दिसंबर गुरुवार को मनाई जाएगी है🌞* *🚩इस साल 2019 में माँ अन्नपूर्णा की जयंती मार्गशीर्ष मास की पूर्णिमा तिथि, 12 दिसंबर दिन गुरुवार को मनाई जाएगी है। अगर अन्न न हो तो धरती पर शायद जीवन भी संभव नहीं हो सकेगा, इसलिए तो अन्न को जीवन का अति महत्वपूर्ण अंग माना जाता है और जिनके उपर मां अन्नपूर्णा की कृपा हो जाये तो फिर उनके जीवन में कभी भी किसी चीज का अभाव नहीं रहता। शास्त्रों के अनुसार इस दिन रसोईघर में चूल्हे आदि का पूजन करने से घर परिवार में कभी भी अन्न और धन-धान्य की कमी नहीं रहती।* *शास्त्रों में उल्लेख आता है कि एक बार जब धरती पर अन्न की कमी हो गयी तो जगतजननी मां पार्वती ने माँ अन्नपूर्णा का रूप लेकर धरती पृथ्वी लोक पर अन्न की पूर्ति की थी, जिस दिन माता अन्नपूर्णा धरती पर प्रगट हुई थी उस दिन मार्गशीर्ष मास की पूर्णिमा तिथि ही थी। तभी से मार्गशीर्ष पूर्णिमा के दिन अन्नपूर्णा जयंती मनाई जाती है।* *प्राचीन कथानुसार एक समय जब धरती पर पानी और अन्न समाप्त होने लगा जिससे चारों ओर हाहाकार मचने लगा और मनुष्य ने अन्न की समस्या से मुक्ति के लिए भगवान श्री ब्रह्मा जी एवं भगवान श्री विष्णु जी की आराधना प्रारंभ कर दी। मनुष्यों की करूण पुकार सुनकर श्री ब्रह्म देव एवं श्री विष्णु जी ने आदिदेव भगवान शिवजी की आराधना की जिससे प्रसन्न होकर शिवजी ने माता पार्वती से प्राणी मात्र की समस्या को दूर करने का आग्रह किया। दयालु माता पार्वती ने माँ अन्नपूर्णा का रूप धारण करके सभी की समस्या का समाधान कर धरती पर अन्न का भंडार भर दिया। तभी से सभी देवों के साथ धरती के मनुष्यों ने भी माँ अन्नपूर्णा की पूजा आराधना आरंभ कर दी।* #🙏 અન્નપૂર્ણા જ્યંતી
128 એ જોયું
2 મહિના પહેલા
અન્ય એપ પર શેર કરો
Facebook
WhatsApp
લિંક કોપી કરો
કાઢી નાખો
Embed
હું આ પોસ્ટની ફરિયાદ કરવા માંગુ છુ, કારણકે આ પોસ્ટ...
Embed Post